Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» State First Solar Park Will Be Construct In Chahno

ऊर्जा विभाग ने केंद्र को भेजा प्रस्ताव, चान्हो में बनेगा राज्य का पहला सोलर पार्क

जमीन चिह्नित करने की प्रक्रिया शुरू, 200 मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा

कौशल आनंद | Last Modified - Aug 13, 2018, 01:52 AM IST

ऊर्जा विभाग ने केंद्र को भेजा प्रस्ताव, चान्हो में बनेगा राज्य का पहला सोलर पार्क

रांची.झारखंड में ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा देने के लिए चान्हो प्रखंड में राज्य का पहला सोलर पार्क बनाया जाएगा। ऊर्जा विभाग ने केंद्रीय नूतन एवं पुनर्नवीकरण मंत्रालय को इसका प्रस्ताव भेजा है। मंजूरी मिलते ही काम शुरू हो जाएगा। इसके लिए रांची डीसी को जमीन मुहैया कराने को कहा गया है। चान्हो में जमीन चिह्नित करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।
एक मेगावाट प्लांट के लिए पांच एकड़ जमीन जरूरी है। ऊर्जा विभाग ने 200 मेगावाट सोलर पावर के उत्पादन का लक्ष्य रखा है। इस योजना से ग्रामीणों को भी जोड़ने पर विचार किया जा रहा है, ताकि जमीन अधिग्रहण में परेशानी न हो। सरकार का मानना है कि अगर ग्रामीणों को इससे सीधे जोड़ा जाए तो उनकी आय बढ़ेगी और खाली जमीन का इस्तेमाल भी होगा। अगर चान्हो में एक जगह 200 मेगावाट के सोलर पावर प्लांट के लिए जगह नहीं मिली तो कुछ प्लांट दूसरी जगह भी लगाए जा सकते हैं।

210 की जगह अभी 8 मेगावाट का ही उत्पादन:केंद्र सरकार द्वारा तय नीति के अनुसार राज्य में बिजली की कुल खपत का 10 फीसदी ग्रीन एनर्जी से प्राप्त करना है। झारखंड में फिलहाल रोजाना 2100 मेगावाट बिजली की खपत है। यानी 210 मेगावाट ग्रीन एनर्जी चाहिए। राज्य में अभी सिर्फ 8 मेगावाट यानी छह फीसदी सोलर एनर्जी का उत्पादन होता है। शेष 94 फीसदी सोलर एनर्जी के उत्पादन का लक्ष्य हासिल करना है। इसके लिए राज्य के 40 हजार सरकारी व निजी भवनों में रूफ टॉप सोलर सिस्टम लगाने की योजना शुरू की जा रही है।

डीसी से जमीन उपलब्ध कराने का कहा गया:रांची के चान्हो में सोलर पार्क का प्रस्ताव केंद्र को भेज दिया गया है। डीसी को जमीन उपलब्ध कराने को कहा गया है। इस पार्क में कुल 200 मेगावाट बिजली उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है। -नितिन मदन कुलकर्णी, ऊर्जा सचिव

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×