कोडरमा / पत्थर खदान में चाल धंसने से तीन लोग मलबे में दबे, दो अन्य घायल

घटनास्थल के पास खड़े ग्रामीण। घटनास्थल के पास खड़े ग्रामीण।
X
घटनास्थल के पास खड़े ग्रामीण।घटनास्थल के पास खड़े ग्रामीण।

  • चाल धंसने के कारण पानी में इतनी तेज लहर उठी कि लोडिंग के लिए खड़ी डंफर सहित शक्तिमान वाहन करीब 60 फीट दूर जा गिरा

दैनिक भास्कर

Nov 09, 2019, 07:00 PM IST

कोरडमा. नवलशाही थाना क्षेत्र के पुरनाडीह में संचालित पत्थर खदान में चाल धंसने से खदान के पार्टनर सहित तीन लोग मलबे में दब गए हैं। जबकि दो मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घटना शनिवार दोपहर करीब 1 बजे की है। घायलों को इलाज के लिए स्थानीय क्लिनिक में भर्ती कराया गया है। खदान में दबे लोगों में खदान मालिक के पार्टनर मसनोडीह निवासी अनिल कुमार सिंह (50) जबकि दो मजदूरों मे डोमचांच थाना क्षेत्र के डोमचांच स्थित कालीमंडा निवासी अनिल मेहता उर्फ अन्नी मेहता (35) व फुलवरिया निवासी उपेंद्र मेहता (35) शामिल हैं। उक्त खदान संजय कुमार राय की बताई गई है। 

 

घटना के पांच घंटे बाद भी राहत कार्य शुरू नहीं
घटना के पांच घंटे के बाद भी किसी तरह का कोई राहत कार्य नहीं शुरू किया जा सका है, जिससे उसमें दबे हुए लोगों को बाहर नहीं निकाला जा सका है। पीड़ितों के परिजनों में काफी आक्रोश है। दुर्घटना की सूचना पर प्रखंड के बीडीओ व थाना प्रभारी के अलावा खनन विभाग के डीएमओ भी वहां पहुचे। 

 

खनन कार्य के दौरान हुआ हादसा
जानकारी अनुसार पत्थर खदान में पोकलेन से दो शक्तिमान व एक डम्फर ट्रक मेंं लोडिंग का कार्य किया जा रहा था। इसी दौरान करीब दो सौ फीट ऊपर से 70-80 फीट गहरे पानी भरे खदान में अचानक चाल धंस गया। चाल धंसने के कारण पानी में इतनी तेज लहर उठी कि वहां लोडिंग के लिए खड़ी डंफर सहित शक्तिमान वाहन करीब 60 फीट दूर जा गिरा। घटना के वक्त खदान के लोडिंग प्वाइंट पर मौजूद खदान मालिक के पार्टनर अनिल सिंह, अनिल मेहता व उपेंद्र मेहता मलबे में दब गए। घटना में डंफर के चालक सेवाली महतो, जेसीबी चालक ने किसी तरह अपनी जान बचाई। जबकि दो अन्य मजदूर विशाल महतो व मंटू यादव गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को तत्काल पुरनाडीह स्थित निजी क्लििनक में प्राथमिक उपचार के बार बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया गया। घटना की जानकारी मिलने बीडीओ सह सीओ मनीष कुमार, इंस्पेक्टर केके सिंह, थाना प्रभारी श्यामलाल यादव दलबल के साथ घटनास्थल पर पंहुचे।

 

ग्रामीण व परिजनों की ओर से ट्यूब के सहारे लापता तीनों लोगों को खोजने का प्रयास किया गया पर उनका कुछ भी पता नहीं चल सका। जिला प्रशासन की ओर से खदान संचालक को मोटर पंप के सहारे पानी निकालने के निर्देश दिए गए हैं, हालांकि खबर लिखे जाने तक घटनास्थल पर लापता लेागों की खोजबीन के लिए किसी तरह की राहत कार्य शुरू नहीं की जा सका है।

 

DBApp

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना