रांची

--Advertisement--

24 घंटे में सांसद रामटहल चौधरी ने माफी नहीं मांगी तो आंदोलन: आदिवासी संगठन

आदिवासी संगठन के लोगों ने कहा कि उनकी टिप्पणी पूरी तरह से आदिवासी विरोधी है

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 06:31 PM IST

रांची. झारखंड सरना महासभा, आदिवासी जनपरिषद, आदिवासी सेना, केंद्रीय सरना समिति आदिवासी संगठनों ने सांसद रामटहल चौधरी से 24 घंटे के अंदर माफी मांगने की मांग है। माफी नहीं मांगने पर उनके खिलाफ आंदोलन करने की चेतावनी दी है।

सांसद का बयान पूरी तरह से गैरजिम्मेदाराना: अजय तिर्की

महासभा के मुख्य संयोजक देवकुमार धान, जनपरिषद अध्यक्ष प्रेम शाही मुंडा, आदिवासी सेना अध्यक्ष शिवा कच्छप एवं केंद्रीय सरना समिति के अध्यक्ष अजय तिर्की ने कहा कि सांसद का बयान पूरी तरह से गैरजिम्मेदाराना है। इस तरह की टिप्पणी से आदिवासी भावनाएं आहत हुई है। एक ओर कुरमी समुदाय के लोग अपने आप को आदिवासी सूची में शामिल होने की मांग कर हैं, आंदोलित हैं। ऊपर से कुरमी नेताओं के मन में आदिवासियों के प्रति क्या सोच है। यह स्पष्ट झलकता है।

चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा

आदिवासी संगठन के लोगों ने कहा कि उनकी टिप्पणी पूरी तरह से आदिवासी विरोधी है। इसलिए अगर वे माफी नहीं मांगते हैं, इसके गंभीर परिणाम उन्हें भुगतने पड़ेंगे। चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा। मालूम हो कि सांसद ने शनिवार को कहा था कि एचईसी से मिले पैसे से अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोग दारू पीकर उड़ा दिया। जो भी वेतन मिला उससे ये लोग रेडिया खरीदते थे और उसे पटक कर तोड़ देते थे। वहीं जागरूक लोगों ने 10 रुपए से 20 रुपए बनाया।

X
Click to listen..