--Advertisement--

बैठक / हमारी सरकार दलित विरोधी नहीं, यह सबका साथ सबका विकास की बात करने वाली सरकार है: आठवले



प्रेस को संबोधित करते आठवले व अन्य। प्रेस को संबोधित करते आठवले व अन्य।
X
प्रेस को संबोधित करते आठवले व अन्य।प्रेस को संबोधित करते आठवले व अन्य।

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2018, 06:24 PM IST

रांची. केंद्रीय सामाजिक न्याय अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास आठवले ने कहा कि हमारी सरकार दलित विरोधी नहीं, यह सबका साथ सबका विकास की बात करने वाली सरकार है। अंतर जातीय विवाह करने पर राज्य सरकार 50 हजार रुपए सहयोग राशि देती है, वहीं केंद्र सरकार इसके लिए 2 लाख 50 हजार की राशि देती है। इस हेतु उन्होंने राज्य सरकार से 1 लाख रुपए सहायता राशि देनी की बात कही है। 

 

आठवले ने कहा कि पूरे देश में आरक्षण के लिए कई जातियां मांग कर रही है। हमारी सरकार इन जातियों के आरक्षण के लिए जो 50 प्रतिशत सामान्य वर्ग में से 25 प्रतिशत का आरक्षण दिया जाए न कि एसटीएससी, एससी एवं ओबीसी को प्राप्त आरक्षण में कटौती की जाए। आठवले आज झारखंड मंत्रालय के सभागार में राज्य सरकार के समाज कल्याण एवं महिलाए बाल विकास विभाग के साथ आयोजित बैठक के बाद प्रेस को संबोधित कर रहे थे।

झारखंड के हर जिले में ओल्ड एज होम के निर्माण का लक्ष्य

  1. रामदास आठवले ने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि झारखंड के हर जिले में एक ओल्ड एज होम का निर्माण हो। 10 जिलों में इसका निर्माण हो चुका है और बाकी के अन्य 14 जिलों में इसपर काम चल रहा है। उन्होंने राज्य में कार्यरत कर्मियों एवं रिक्तियों कि जानकारी देते हुए कहा कि राज्य में दिव्यांगों के लिए काफी पदों पर रिक्तियां हैं। इन रिक्तियों को भरने के लिए राज्य सरकार द्वारा कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य के दिव्यांगों को स्किल्ड कर उन्हें रोजगार से जोड़ना हमारी प्राथमिकता है। 

  2. सरकारी नौकरी में दिव्यांगों हेतू पांच प्रतिशत आरक्षण के लिए सरकार प्रयासरत

    सरकारी नौकरी में दिव्यांगों हेतु 4 प्रतिशत प्राप्त आरक्षण को बढ़ाकर 5 प्रतिशत एवं शिक्षा में 5 प्रतिशत आरक्षण दी जाए, इस हेतु सरकार प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ओबीसी कमीशन को संवैधानिक दर्जा दिलाने के लिए कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में 20,500 लोग अभी भी हाथ से मैला ढोने का काम कर रहे हैं। इनके लिए सरकार द्वारा प्रत्येक परिवार को 50 हजार रुपए की सहायता राशि देने की योजना बनाई जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में रेलवे, राज्य सरकार, केंद्र सरकार आदि सरकारी संस्थानों में कई बैकलॉग वैकेंसी है जिसे भरने का प्रयास किया जा रहा है।

  3. सबका साथ, सबका विकास की बात करने वाली सरकार

    आठवले ने कहा कि हमारी सरकार दलित विरोधी नहीं, यह सबका साथ सबका विकास की बात करने वाली सरकार है। एसटी एससी एक्ट का कोई मिस यूज ना हो यह एक्ट एसटी एससी के सहयोग के लिए बनाया गया है ना कि सवर्णों पर अत्याचार करने के लिए। उन्होंने कहा कि जो अत्याचार करते हैं उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। सभी सामान्य वर्ग के लोगों को आश्वासन देना चाहता हूं कि इस एक्ट का कहीं दुरूपयोग नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुंबई सेंट्रल जंक्शन का नाम बाबासाहेब के नाम पर रखा जाए इस हेतु हम प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा देश हित के कई योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। आयुष्मान भारत द्वारा गरीब लोगों के इलाज के लिए 5 लाख की राशि का बीमा कराया गया है, आब कोई भी गरीब बिना इलाज के बीमारी से नहीं मरेगा।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..