रांची

--Advertisement--

कुम्हरिया माइंस पर ग्रामीणों का हमला, कई वाहनों को किया क्षतिग्रस्त; सड़क पर लगाया जाम

ब्लास्टिंग और सड़क क्षतिग्रस्त होने से नाराज थे ग्रामीण

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2018, 12:34 PM IST
आक्रोशित ग्रामीणों के हमले क् आक्रोशित ग्रामीणों के हमले क्

कांके. पिठोरिया थाना क्षेत्र के कुम्हरिया में ग्रामीणों ने एक स्टोन माइंस में रविवार को जमकर तोड़फोड़ की। दिन के लगभग 11ः30 बजे अचानक दर्जनों की संख्या में जुटे महिलाओं और पुरुषों ने कथित तौर पर हरवे-हथियार के साथ माइंस के कर्मियों एवं वाहनों पर हमला कर दिया। तीन पोकलेन, दो हाईवा और एक ड्रिल मशीन को क्षतिग्रस्त कर दिया। साथ ही वहां के मैनेजर जफर इमाम खान से कथित तौर पर पेमेंट के 1.78 लाख रुपए लूट लिए।

8 लोगों पर मामला दर्ज: इस संबंध में जफर इमाम खान ने पिठोरिया थाना प्राथमिकी दर्ज कराई है। इसमें आठ लोगों राजनाथ महतो, सचिन मुंडा, बिनोद उरांव, दीपक महतो, निशा देवी, सुमित्रा देवी, कुलदीप उरांव और कविता देवी को नामजद अभियुक्त बनाया है। वहीं 10-15 अज्ञात लोगों के भी शामिल होने का आरोप लगाया है। उधर, लीजधारक मोहसिन खान ने कहा कि गांव के ही कुछ लोगों ने कुछ समय पहले पैसे की मांग की थी। ऐसा नहीं होने पर ग्रामीणों को उकसा कर हमला करवाया। बताया कि उनको वर्ष 2017 से 2027 तक लीज पर माइंस चलाने के लिए 11 एकड़ जमीन प्रशासन के द्वारा उपलब्ध कराई गई। ग्राम सभा की मंजूरी के बाद पूरे नियम के तहत उनको लीज मिला है।

ब्लास्टिंग से खेती करने में परेशानी होती है : शाम लगभग चार बजे ग्रामीणों ने कुम्हरिया-चंदवे मुख्य मार्ग पर लगभग एक घंटे तक जाम लगा दिया। वे सात माह पूर्व आरंभ हुए कुम्हरिया स्टोन डिपाॅजिट में नियमित होने वाली कथित ब्लास्टिंग से परेशान हैं। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि अवैध ढंग से चल रहे इस माइंस की ब्लास्टिंग के कारण उनको खेती के कार्य में परेशानी होती है। साथ ही यहां चलने वाली भारी व बड़ी गाड़ियों के कारण गांव की मुख्य सड़क भी अत्यंत खराब हो गई है। ग्रामीणों के घरों को भी नुकसान पहुंचने का खतरा है। इससे इनलोगों को आनेजाने में भी काफी परेशानी उठानी पड़ती है। इसकी शिकायत करते हुए ग्रामीणों ने माइंस के विरुद्ध कार्रवाई की मांग प्रशासन से की थी। लेकिन कोई सुनवाई नहीं होने से नाराज होकर वे सभी सड़क जाम किए।

X
आक्रोशित ग्रामीणों के हमले क्आक्रोशित ग्रामीणों के हमले क्
Click to listen..