पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बदमाशों के चंगुल से दो लड़कियां नहीं भागती तो पीड़िताओं को ढूंढ़ना मुश्किल था

7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मेले स्थल का जायजा लेती पुलिस।
  • मेले से वापसी के दौरान लड़कियों को काफी सुनसान रास्ते से गुजरना पड़ा
  • छह आरोपियों में से एक लड़कियों में से तीन का क्लासमेट है
Advertisement
Advertisement

रांची. खूंटी थाना क्षेत्र स्थित हातूदामी गांव में हुई चार नाबालिग लड़कियों के साथ छेड़खानी की घटना के बाद गुरुवार को पीड़िता के गांव वाले काफी आक्रोशित हैं। उनकी मांग है कि आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। वहीं, इस घटना के खुलासे में पीड़िताओं की दो सहेलियों की महत्वपूर्ण भूमिका रही। आरोपियों ने छह लड़कियों को पकड़ा था पर उनमे से दो भागने में कामयाब रही थीं। इन्हीं दोनों ने बाकि लड़कियों के परिजनों को घटना की सूचना दी और लोकेशन बताया। तब जाकर परिजन पीड़िताओं के पास अहले सुबह 3 बजे तक पहुंच सके। चार लड़कियां एक घर में बंद थी। ऐसे में समय पर उनके नहीं मिलने पर उनकी जान को खतरा भी हो सकता था। वहीं, पुलिस का कहना है कि सभी लड़कियां खुद ही अपने घर की ओर आ रही थी।

ये भी पढ़े
4 नाबालिग लड़कियों से सामूहिक दुष्‍कर्म, मकर संक्रांति का मेला देखकर घर लौट रही थीं



गांव से महज 3 किलोमीटर दूर लगा था मेला
रंग रोड़ी गांव में टुसू मेला लगा था, जो पीड़िताओं के गांव से महज 3 किलोमीटर की दूरी पर है। वहीं, घटनास्थल हातूदामी गांव भी मेले से 3 किलोमीटर ही दूर है। रास्ते में जंगल का इलाका पड़ता है। यहां मकर संक्रांति के दौरान हर साल मेले का आयोजन होता है।

सुनसान इलाके से गुजरना पड़ा
मेले से वापसी के दौरान लड़कियों को काफी सुनसान रास्ते से गुजरना पड़ा और इसी बीच आरोपियों ने उन्हें उठाया। तीन बाइक पर आए 6 आरोपियों ने सभी छह लड़कियों को पकड़ लिया। पर दो भागने में सफल रही। इन्हीं दो लड़कियों की सूचना के बाद घटना की सूचना परिजनों को मिली और पुलिस को जानकारी दी गई। जंगल का इलाका होने से परिजनों का लड़कियों तक पहुंच पाना काफी मुश्किल हो सकता था।

रात 10 बजे गांव में पहुंची दो लड़कियां
लड़कियों की सहेलियां आरोपियों के चंगुल से भागने के बाद करीब रात 10 बजे अरगोड़ी गांव पहुंची, जहां उन्होंने बाकि लड़कियों के परिजनों को घटना के बारे में बताया। इसके बाद परिजन लड़कियों को ढूंढ़ते हुए हातूदामी गांव पहुंचे। एक घर में बंद सभी लड़कियों को बाहर निकाला गया और घटना की उनसे जानकारी ली गई। वहीं, पुलिस का कहना है कि सभी लड़कियां खुद ही अपने घर की ओर आ रही थी और इसी बीच परिजनों को वो मिली।

एक आरोपी की लड़कियों ने बताई पहचान
इधर, घटना के बाद से ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। सभी आरोपियों को कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग को लेकर नारेबाजी भी की। आरोपियों में से एक को लड़कियों ने पहचान लिया। क्योंकि वो इनमें से तीन लड़कियों के क्लास में पढ़ता है। बाकि आरोपियों को लड़कियां नहीं पहचान पाई।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज रिश्तेदारों या पड़ोसियों के साथ किसी गंभीर विषय पर चर्चा होगी। आपके द्वारा रखा गया मजबूत पक्ष आपके मान-सम्मान में वृद्धि करेगा। कहीं फंसा हुआ पैसा भी आज मिलने की संभावना है। इसलिए उसे वसूल...

और पढ़ें

Advertisement