--Advertisement--

फैसला / झारखंड में फिर निजी दुकानों में बिकेगी शराब, ई-लॉटरी से की जाएगी दुकानों की बंदोबस्ती



Wine sold in private shops
X
Wine sold in private shops

  • बिक्री के लिए कैबिनेट ने एनईएमएल कंपनी का मनोनयन किया
  • सरकार कंपनी को 35 लाख रुपए का भुगतान करेगी

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 05:28 AM IST

रांची. झारखंड में फिर निजी दुकानों में शराब बिकेगी। ई-लॉटरी से दुकानों की बंदोबस्ती की जाएगी। इसके लिए कैबिनेट ने एनईएमएल कंपनी का मनोनयन किया है।

 

सरकार कंपनी को 35 लाख रुपए का भुगतान करेगी। कैबिनेट के प्रधान सचिव एसकेजी रहाटे ने बताया कि कैबिनेट की अगली बैठक में पुरानी व्यवस्था से शराब बेचे जाने का औपचारिक निर्णय लेने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। उन्होंने बताया कि एनईएमएल कंपनी का मनोनयन करने के लिए कैबिनेट ने वित्त नियमावली के नियम 245 के तहत नियम 235 को शिथिल करने की मंजूरी दी।

 

रहाटे ने कहा कि छत्तीसगढ़ की तर्ज पर झारखंड में शराब बेचने का फैसला हुआ था। पर राजस्व में कमी होने के कारण फिर पुरानी व्यवस्था लागू की जाएगी। खुदरा बिक्री के टेंडर के लिए भी उत्पाद विभाग ने ई-प्लेटफाॅर्म तैयार कर लिया है। एनईएमएल ई-लॉटरी से वर्ष 2019-20 में खुदरा शराब दुकानों का टेंडर कराएगी। तर्क है कि मैनुअली लॉटरी में गड़बड़ी की आशंका रहती है। ऐसे में ई-लॉटरी से पारदर्शिता आएगी।

 

राजस्व में 11% की कमी आई
झारखंड में अभी सरकार शराब बेच रही है। राज्य में 706 दुकानें हैं। कई जगह दुकानें ही नहीं खुल पाई।  इन कारणों से 2016-17 की तुलना में 2017-18 में राजस्व में 11 फीसदी की कमी आई।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..