--Advertisement--

खरसावां में मना 82 वां उत्कल दिवस, जुटे लोग

खरसावां| खरसावां के राजमहल परिसर में रविवार को उत्कल सम्मेलनी उड़िया शिक्षक संघ सरायकेला खरसावां के द्वारा 82 वां...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:20 AM IST
खरसावां| खरसावां के राजमहल परिसर में रविवार को उत्कल सम्मेलनी उड़िया शिक्षक संघ सरायकेला खरसावां के द्वारा 82 वां उत्कल दिवस धूमधाम से मनाया। उत्कल दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ ने राजमहल चौक स्थित पंडित उत्कल मणी गोपबंधु दास के प्रतिमा पर माल्यार्पण कर किया। इस दौरान उड़िया समाज के लोगों ने भाषा संस्कृति के उत्थान का संकल्प लिया। राजकीय कन्या मध्य विधालय खरसावां, आदर्श मध्य विधालय खरसावां एवं उत्क्रमित आदर्श मध्य विद्यालय खरसावां के छात्र-छात्राओं ने उत्कल जननी गीत प्रस्तुत कर विधिवत कार्यक्रम शुरू किया। साथ ही सामाजिक क्षेत्र सहित भाषा-संस्कृति के बिकास में अपना बहुमूल्य योगदान देने वाले छह गणमान्य लोगों को झारखंड राज्य अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष अशोक षांडगी ने सम्मानित किया। इस दौरान समाज के लोगों ने अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष के समक्ष प्रमंडलीय स्तरीय उडिया सामाजिक कार्यक्रम का आयोजन करने, भाषा-सांस्कृति, कला-खेल के क्षेत्र में उपलब्धि हासिल कर चुके लोगों को सम्मानित करने आदि मांग रखी। मौके पर अशोक षांड़ंगी के कहा कि मातृभाषा अपनी सभ्यता संस्कृति के प्रति हमेशा मनोभाव रखना हम सभी का परम कर्तत्व है। खरसावां के राजकुमार गोपाल नारायण सिंहदेव ने कहा कि हमारी भाषा ओडिया नहीं है, पर हमारी आत्मा ओडिया है।