• Home
  • Jharkhand News
  • Saraikela
  • अध्यक्ष पद की उम्मीदवार लक्ष्मी देवी ने खोला चुनावी कार्यालय
--Advertisement--

अध्यक्ष पद की उम्मीदवार लक्ष्मी देवी ने खोला चुनावी कार्यालय

सरायकेला | नगर निकाय चुनाव के मद्देनजर सरायकेला नगर पंचायत के झारखंड विकास मोर्चा के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार...

Danik Bhaskar | Apr 04, 2018, 03:45 AM IST
सरायकेला | नगर निकाय चुनाव के मद्देनजर सरायकेला नगर पंचायत के झारखंड विकास मोर्चा के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार लक्ष्मी देवी के प्रचार प्रसार के लिए राजबांध मुख्य सड़क किनारे चुनावी कार्यालय खोला गया। जिला अध्यक्ष शंभू मंडल ने कार्यालय का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने उम्मीदवार एवं कार्यकर्ताओं के साथ प्रचार-प्रसार अभियान को साथ दिया। राजबांध, वार्ड संख्या एक एवं दो क्षेत्र में जनसंपर्क अभियान चलाकर लक्ष्मी देवी के लिए लोगों से वोट मांगा गया।

अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद के भाजपा उम्मीदवार ने किया जनसंपर्क

सरायकेला |नगर पंचायत के भाजपा की ओर से अध्यक्ष पद की उम्मीदवार मीनाक्षी देवी व उपाध्यक्ष उम्मीदवार सिद्धार्थ शंकर सिंह देव उर्फ राजा सिंहदेव ने मंगलवार को गैरेज चौक व वार्ड संख्या एक और दो में जनसंपर्क अभियान चलाकर अपने पक्ष में मतदान करने को कहा। उन्होंने सरायकेला नगर पंचायत को एक सुसज्जित नगर बनाने के लिए स्थानीय लोगों से सहयोग मांगा।

उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी झलक षाड़ंगी ने चलाया जनसंपर्क अभियान

सरायकेला | नगर पंचायत चुनाव में आजसू समर्थित उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी झलक कुमार षाड़ंगी ने अपने पक्ष में जनसंपर्क अभियान चलाया। इसके तहत उन्होंने नगर पंचायत क्षेत्र के वार्ड संख्या 11 के देवानसाई मोहल्ले में डोर-टू-डोर जनसंपर्क किया। जिसमें आजसू प्रखंड अध्यक्ष दुर्गा चरण महतो की उपस्थिति में बुजुर्गों से आशीर्वाद भी लिया।

उपाध्यक्ष पद के उम्मीदवार ने दुकानदारों की सुनी समस्या

सरायकेला | नगर पंचायत क्षेत्र में दुकानदारों से एमएसडब्ल्यू द्वारा सफाई शुल्क वसूल करने का विरोध स्थानीय दुकानदारों द्वारा किया गया। दुकानदारों का नेतृत्व सरायकेला नगर पंचायत के उपाध्यक्ष उम्मीदवार मनोज कुमार चौधरी ने किया। सफाई शुल्क का विरोध करते हुए सभी दुकानदारों ने कार्यपालक पदाधिकारी को एक लिखित ज्ञापन सौंपा है। मनोज चौधरी ने कहा कि सभी दुकानदार उपाध्यक्ष के रूप में उन्हें वोट दें। ताकि इस तरह की समस्याओं से दुकानदारों को सामना ना करना पड़े।