• Hindi News
  • Jharkhand
  • Saraikela
  • कहीं देरी से खुला स्कूल तो कहीं बच्चों की नहीं बनी थी हाजिरी, 12 शिक्षकों का वेतन रोका
--Advertisement--

कहीं देरी से खुला स्कूल तो कहीं बच्चों की नहीं बनी थी हाजिरी, 12 शिक्षकों का वेतन रोका

जिला शिक्षा अधीक्षक फुलमनी खलखो ने शुक्रवार को नीमड़ीह प्रखंड के 6 विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया। विद्यालय...

Dainik Bhaskar

Apr 07, 2018, 02:55 AM IST
कहीं देरी से खुला स्कूल तो कहीं बच्चों की नहीं बनी थी हाजिरी, 12 शिक्षकों का वेतन रोका
जिला शिक्षा अधीक्षक फुलमनी खलखो ने शुक्रवार को नीमड़ीह प्रखंड के 6 विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया। विद्यालय देरी से खुलने, छात्रों की कमी, विभिन्न पंजियों का संधारण में गड़बड़ी तथा साफ-सफाई की कमी को लेकर दोषी पाए गए 12 शिक्षकों को अगले आदेश तक वेतन स्थगित करने का आदेश दिया है। जिला शिक्षा अधीक्षक द्वारा निरीक्षण के क्रम में मध्य विद्यालय आदरडीह, उच्च विद्यालय पूरीयारा एवं कस्तूरबा गांधी विद्यालय नीमड़ीह में साफ-सफाई तथा व्यवस्थित ढंग से संचालन करते हुए पाया गया है। जिला शिक्षा अधीक्षक ने उत्क्रमित मध्य विद्यालय हुंडरू निरीक्षण किया। जहां सुबह 8:50 बजे तक छात्रों की हाजिरी नहीं बनी थी। उन्होंने निरीक्षण के क्रम में विद्यालय को व्यवस्थित ढंग से नहीं पाया। जिला शिक्षा अधीक्षक ने यहां शिक्षिका नीतू सिंह, सरदार त्रिलोचन सिंह, मुंडा सुनीता, कुमारी रेखा रानी कुमारी, राजेश कुमार झा एवं प्रदीप कुमार प्रमाणिक का वेतन अगले आदेश तक स्थगित करने का आदेश दिया है। प्राथमिक विद्यालय जोगी लौंग में एसएमसी की बैठक नियमित नहीं होती है। विद्यालय भी अव्यवस्थित है। यहां शिक्षक लक्ष्मण मुर्मू एवं कालीपद गोप का वेतन अगले आदेश तक बंद किया गया। उत्क्रमित मध्य विद्यालय बांदो में मध्याह्न भोजन का संचालन व्यवस्था में काफी गड़बड़ी पाई गई। यहां शक्षकों का वेतन रोका गया है।

विद्यालय का निरीक्षण करते जिला शिक्षा अधीक्षक।

X
कहीं देरी से खुला स्कूल तो कहीं बच्चों की नहीं बनी थी हाजिरी, 12 शिक्षकों का वेतन रोका
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..