• Hindi News
  • Jharkhand
  • Saraikela
  • दूसरे दिन भक्तों ने 350 मीटर रस्सी खींच भगवान को पहुंचाया मौसी घर

दूसरे दिन भक्तों ने 350 मीटर रस्सी खींच भगवान को पहुंचाया मौसी घर / दूसरे दिन भक्तों ने 350 मीटर रस्सी खींच भगवान को पहुंचाया मौसी घर

Saraikela News - जगन्नाथ धाम पूरी के तर्ज पर सरायकेला में होने वाली परंपरागत रथयात्रा के दूसरे दिन महाप्रभु श्री जगन्नाथ अपने बहन...

Bhaskar News Network

Jul 16, 2018, 03:30 AM IST
दूसरे दिन भक्तों ने 350 मीटर रस्सी खींच भगवान को पहुंचाया मौसी घर
जगन्नाथ धाम पूरी के तर्ज पर सरायकेला में होने वाली परंपरागत रथयात्रा के दूसरे दिन महाप्रभु श्री जगन्नाथ अपने बहन सुभद्रा एवं बड़े भाई बलभद्र के साथ गोपबंधु चौक से यात्रा प्रारंभ की। इससे पूर्व पहले दिन की रथयात्रा के विश्राम स्थल गोपबंधु चौक पर रविवार की प्रातः बेला से ही भक्तों की भीड़ महाप्रभु के दर्शन करने और पूजा अर्चना करने को लेकर लगी रही। शाम करीब 4 बजे जगन्नाथ भक्तों ने गोपबंधु चौक से रथ को खींचना प्रारंभ किया। जय जगन्नाथ के जयकारे के बीच मुख्य मार्ग से होते हुए तकरीबन 350 मीटर की दूरी तय कर शाम 7:30 बजे रथ गुंडिचा मंदिर के मुख्य द्वार पर पहुंचा। इससे पहले रथ यात्रा के दौरान सैकड़ों की संख्या में सरायकेला सहित आस-पास के क्षेत्रों से पहुंचे जगन्नाथ भक्त रथ के साथ चलते हुए मौसी बाड़ी तक आए। इस दौरान रथ पर महाप्रभु के पूजा अर्चना के साथ भक्तों के बीच भोग प्रसाद का वितरण किया जाता रहा। पुजारियों द्वारा उछाले गए प्रसाद को भीड़ में उत्साह के साथ भक्त लूटते रहे।

गोपबंधु चौक पर सुबह भक्तों ने किए महाप्रभु के दर्शन

9 दिवसीय जगन्नाथ मेला हुआ शुरू

सरायकेला| रथयात्रा के शुभ अवसर पर गुंडिचा मंदिर के आसपास लगाए जाने वाले क्षेत्र प्रसिद्ध नौ दिवसीय जगन्नाथ मेले का रविवार को शुभारंभ किया गया। मुख्य अतिथि सरायकेला अनुमंडलाधिकारी संदीप दुबे व सरायकेला अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अविनाश कुमार ने जगन्नाथ मेले का शुभारंभ किया। गुंडिचा मंदिर में सरायकेला अनुमंडलाधिकारी ने कहा कि जल्द ही विभागीय सलाह लेकर जगन्नाथ श्री मंदिर एवं गुंडिचा मंदिर के जीर्णोद्धार का प्रयास किया जाएगा। पुलिस पदाधिकारी ने कहा कि मेले के दौरान विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी आवश्यक इंतजाम किए गए हैं।

श्रीकृष्ण की महारास लीला आकर्षण का केंद्र

कृष्ण की महारास लीला- गुंडिचा मंदिर प्रांगण में जगन्नाथ मेला कमेटी के तत्वाधान प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी देव सभा लगाई गई है। इसमें प्रमुख आकर्षण के तौर पर भगवान श्री कृष्ण की महारास लीला का प्रदर्शन किया गया है। जबकि अन्य भागों पर श्री कृष्ण लीलाओं का प्रदर्शन किया गया है। जगन्नाथ मेला के उद्घाटन के बाद भक्तों की भीड़ देव सभा में प्रदर्शित पौराणिक संस्‍करणों को देखने के लिए उमड़ी रही।

नारी प्रधानता का संदेश देते हैं महाप्रभु

नर होकर नारी के श्रृंगार नाक में नथनी और वस्त्र धारण कर नारी को सृष्टि निर्माता का संदेश महाप्रभु देते हैं। बताया जाता है कि नर नारायण के स्वरुप में महाप्रभु नर के रूप में नारी को श्रेष्ठ मानव होने का अधिकार प्रदान करते हैं।

X
दूसरे दिन भक्तों ने 350 मीटर रस्सी खींच भगवान को पहुंचाया मौसी घर
COMMENT