Hindi News »Jharkhand »Saraikela» 12 दिनों के हाई लेवल ड्रामा के बाद बर्खास्त प्रखंड के 26 शिक्षक वापस लिए

12 दिनों के हाई लेवल ड्रामा के बाद बर्खास्त प्रखंड के 26 शिक्षक वापस लिए

वर्ष 2016 के प्रारंभिक शिक्षक नियुक्ति में हुए घालमेल को लेकर बीते 23 जून को हुई जिला शिक्षा स्थापना समिति की बैठक में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 12, 2018, 03:30 AM IST

वर्ष 2016 के प्रारंभिक शिक्षक नियुक्ति में हुए घालमेल को लेकर बीते 23 जून को हुई जिला शिक्षा स्थापना समिति की बैठक में सर्वसम्मति से नवनियुक्त कुल 53 शिक्षकों को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया था। जिसके मात्र 12 दिनों के बाद ही 3 जुलाई को गैर पारा कोटि में बहाल किए गए 26 शिक्षकों को जिला शिक्षा स्थापना समिति के दोबारा अनुमोदन के बाद समान तिथि से पूर्व के आदेश को स्थगित करते हुए वापस से उनकी सेवाएं बहाल की गई हैं। जिला शिक्षा अधीक्षक फूलमनी खलखो ने इस संबंध में पुनर्सेवा बहाली का आदेश जारी करते हुए पूर्व में दिए गए निर्णय को झारखंड उच्च न्यायालय द्वारा याचिका संख्या डब्लू पी(एस) संख्या 6031/2015 में 2 मार्च 2017 को दिए गए आदेश का हवाला बताया है। जबकि बाद में लिए गए निर्णय को झारखंड उच्च न्यायालय द्वारा याचिका संख्या डब्लू पी (एस) संख्या 186/2017 में दिनांक 11 मई 2018 को दिए गए आदेश का हवाला बताया है। पूरे मामले में वर्ष 2016 की शिक्षक नियुक्ति में जिले में नियुक्ति पाने से वंचित रहे जेटेट उत्तीर्ण पारा शिक्षक भी डीपीई प्रशैक्षणिक योग्यता रखते हुए सीट रहने के बावजूद भी बहाल नहीं हो पाने को लेकर उच्च न्यायालय की शरण में जाने की तैयारी कर रहे हैं।

बर्खास्तगी के बाद वापस लिए गए नवनियुक्त शिक्षक

कक्षा एक से पांच के लिए

1. कल्याण कुमार माजि( खरसावां).

2. कार्तिक गोप( ईचागढ़).

3. ताराशंकर दास( ईचागढ़).

4. जयप्रकाश सिंह मुंडा( ईचागढ़).

5. सुखराम सिंह मुंडा( कुकड़ू).

6. रामचरण महतो( कुचाई).

7. रामचरण गोराई( कुचाई).

8. अर्जुन कुमार बाउरी( कुचाई).

9. प्रदीप कुमार मांजि( राजनगर).

10. मंजू कुमारी गुन्दुवा( राजनगर).

11. पूनम बरवा( राजनगर).

12. रविलाल मुर्मू( राजनगर).

13. दिलीप गोराई( सरायकेला).

14. बिपिन बिहारी महतो( सरायकेला).

15. गौरी शंकर महतो( सरायकेला).

16. दुलारी हांसदा( सरायकेला).

17. गुरुजन सिंह( सरायकेला).

18. संदीप कुंडू( चांडिल).

19. एमदादुल हक(नीमडीह).

20. इंद्रजीत महतो( सरायकेला).

21. मिली गण( सरायकेला).

22. रतन सरदार( सरायकेला).

23. राजेश कुमार किस्कू( गम्हरिया दो).

24. मोहम्मद आरागेबुल इस्लाम( ईचागढ़).

25. नीलांबर महान्त( राजनगर).

कक्षा छठवीं से आठवीं के लिए-

1. सरोज कुमार बेहरा( राजनगर).

भास्कर न्यूज |सरायकेला

वर्ष 2016 के प्रारंभिक शिक्षक नियुक्ति में हुए घालमेल को लेकर बीते 23 जून को हुई जिला शिक्षा स्थापना समिति की बैठक में सर्वसम्मति से नवनियुक्त कुल 53 शिक्षकों को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया था। जिसके मात्र 12 दिनों के बाद ही 3 जुलाई को गैर पारा कोटि में बहाल किए गए 26 शिक्षकों को जिला शिक्षा स्थापना समिति के दोबारा अनुमोदन के बाद समान तिथि से पूर्व के आदेश को स्थगित करते हुए वापस से उनकी सेवाएं बहाल की गई हैं। जिला शिक्षा अधीक्षक फूलमनी खलखो ने इस संबंध में पुनर्सेवा बहाली का आदेश जारी करते हुए पूर्व में दिए गए निर्णय को झारखंड उच्च न्यायालय द्वारा याचिका संख्या डब्लू पी(एस) संख्या 6031/2015 में 2 मार्च 2017 को दिए गए आदेश का हवाला बताया है। जबकि बाद में लिए गए निर्णय को झारखंड उच्च न्यायालय द्वारा याचिका संख्या डब्लू पी (एस) संख्या 186/2017 में दिनांक 11 मई 2018 को दिए गए आदेश का हवाला बताया है। पूरे मामले में वर्ष 2016 की शिक्षक नियुक्ति में जिले में नियुक्ति पाने से वंचित रहे जेटेट उत्तीर्ण पारा शिक्षक भी डीपीई प्रशैक्षणिक योग्यता रखते हुए सीट रहने के बावजूद भी बहाल नहीं हो पाने को लेकर उच्च न्यायालय की शरण में जाने की तैयारी कर रहे हैं।

क्या है मामला

झारखंड में इग्नू से कराए गए डिप्लोमा इन प्राइमरी एजुकेशन( डीपीई) प्रशैक्षणिक योग्यता सिर्फ राज्य के पारा शिक्षकों के लिए ही मान्य की गई थी। लेकिन वर्ष 2016 के शिक्षक नियुक्ति में डीपीई प्रशैक्षणिक योग्यता धारी उक्त 26 पारा शिक्षकों की नियुक्ति गैर पारा कोटि में कर दी गई थी। जिनकी जांच कर हुई थी कार्रवाई।

दो साल से चल रही शिक्षक नियुक्ति की जांच को दो महीने में दो बार सेवा बर्खास्तगी और सेवा वापसी की कार्यवाही कर समाप्त कर दिया गया। जिले के दर्जनों डीपीई योग्यताधारी जेटेट उत्तीर्ण पारा शिक्षक नियुक्ति से वंचित हैं। हाईकोर्ट की शरण में जाने की तैयारी की जा रही है।- संजीव रजक, जिला जेटेट पारा शिक्षक मोर्चा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Saraikela

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×