--Advertisement--

सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में मातृ सम्मेलन

सरायकेला| सीनी स्थित पद्मावती जैन सरस्वती शिशु विद्या मंदिर प्रांगण में मातृ सम्मेलन का आयोजन किया गया। मनोज...

Danik Bhaskar | Apr 22, 2018, 03:35 AM IST
सरायकेला| सीनी स्थित पद्मावती जैन सरस्वती शिशु विद्या मंदिर प्रांगण में मातृ सम्मेलन का आयोजन किया गया। मनोज कुमार शर्मा ने कहा कि शिशुओं के विकास में जितना दायित्व शिक्षकों का है उससे कई गुना ज्यादा माताओं का होता है। क्योंकि शिशु का अधिकांश समय माता-पिता के साथ व्यतीत होता है। मां के प्रत्येक क्रियाकलाप का अनुकरण कर शिशु सीखता है, इसलिए माता को प्रथम शिक्षिका व घर प्रथम पाठशाला होती है। माताओं के स्वागत के लिए मातृशक्ति पर आधारित विद्यालय के बच्चों द्वारा स्वागत गीत एवं नृत्य भी प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के शिक्षिका कंचन देवी ने किया। धन्यवाद ज्ञापन विद्यालय के शिक्षिका फरजाना तब्बसूम ने किया। मौके पर विद्यालय प्रबंध समिति के सचिव सनातन गोराई, उपाध्यक्ष गौतम गांगुली, सदस्य मुकुल गोराई, केदार ठाकुर आदि मौजूद रहे।