• Hindi News
  • Jharkhand
  • Saraikela
  • शोषण के खिलाफ झारखंड की क्रांति राष्ट्रीय आंदोलन की प्रेरणा बनी: मिंज
--Advertisement--

शोषण के खिलाफ झारखंड की क्रांति राष्ट्रीय आंदोलन की प्रेरणा बनी: मिंज

सरायकेला स्थित काशी साहू महाविद्यालय में इतिहास विभाग और राजनीति विज्ञान विभाग द्वारा विभागीय सेमिनार किया...

Dainik Bhaskar

May 15, 2018, 03:40 AM IST
शोषण के खिलाफ झारखंड की क्रांति राष्ट्रीय आंदोलन की प्रेरणा बनी: मिंज
सरायकेला स्थित काशी साहू महाविद्यालय में इतिहास विभाग और राजनीति विज्ञान विभाग द्वारा विभागीय सेमिनार किया गया। कॉलेज के स्टूडेंट हॉल में किए गए इतिहास विभाग के विभागीय सेमिनार की अध्यक्षता कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ जीपी रजवार ने की। इस मौके पर उन्होंने सेमिनार के विषय झारखंड का भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन में योगदान पर चर्चा करते हुए झारखंड के इतिहास के संबंध में बताया। सेमिनार में बतौर मुख्य अतिथि सह मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित हुए रांची विश्वविद्यालय के प्रॉक्टर डॉ दिवाकर मिंज ने अपने संबोधन में कहा कि झारखंड में अंग्रेजी काल के बिल्कुल प्रारंभ में ही क्रांति का सूत्रपात हुआ था।

इसमें झारखंड की जनजातियों द्वारा शोषण के खिलाफ आवाज उठाई गई थी। यही आवाज भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के लिए प्रेरणा का स्रोत बनी। जो झारखंड के लिए गर्व की बात है। सेमिनार को संबोधित करते हुए इतिहास विभाग के विभागाध्यक्ष डॉक्टर ए के राय ने झारखंड के कोल विद्रोह, हो विद्रोह, टाना भगत आंदोलन एवं बिरसा आंदोलन के विषय में विस्तारपूर्वक बताया। सेमिनार का संचालन करते हुए समापन पर इतिहास विभाग के अमलेश कुमार ने धन्यवाद ज्ञापन किया। सेमिनार में डॉक्टर डीके मिश्रा, डॉक्टर बी के सिंह, डॉक्टर के के अखौरी, डॉ वीके सिन्हा, डॉक्टर सी मिश्रा, डॉक्टर के प्यारे, डॉक्टर सुप्रभा टूटी एवं प्रोफेसर लालती तिर्की सहित बड़ी संख्या में इतिहास विभाग के छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।

X
शोषण के खिलाफ झारखंड की क्रांति राष्ट्रीय आंदोलन की प्रेरणा बनी: मिंज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..