--Advertisement--

आपदा से बचने के लिए सतर्क रहें: डीसी

आपदा प्रबंधन विभाग व एनडीआरएफ के द्वारा जिले में 3 से 12 मई तक आपदा जागरुकता अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान में आम...

Danik Bhaskar | May 04, 2018, 04:05 AM IST
आपदा प्रबंधन विभाग व एनडीआरएफ के द्वारा जिले में 3 से 12 मई तक आपदा जागरुकता अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान में आम लोगों को खासकर स्कूल व कॉलेज के छात्र-छात्राओं को विभिन्न आपदाओं से बचाव के संबंध में जानकारी दी जाएगी। इस अभियान को लेकर जिला स्तरीय कार्यशाला गुरुवार को समाहरणालय सभाकक्ष में हुई। इसका उद्घाटन डीसी छवि रंजन ने दीप जलाकर किया। इस कार्यक्रम में भारत सरकार गृह मंत्रालय के 9वीं एनडीआरएफ पटना रेंज के डीआईजी राजेन कुमार, एसपी चंदन कुमार सिन्हा तथा जिले के कई वरिष्ठ पदाधिकारी गण उपस्थित रहे। डीसी छवि रंजन ने कहा कि आपदा के समय लोग टीम भावना से कार्य करें। एक दूसरे को सहयोग करें। उन्होंने कहा कि आपदा से हम लड़ नहीं सकते, परंतु सतर्क रहकर उस से बचा जा सकता है। इसलिए भूकंप, वज्रपात, आग लगी ,तूफान तथा अन्य आपदाओं से बचने के लिए हमें पहले से सतर्कता बरतनी चाहिए।

आपदा से बचने के लिए डेमो दिखाती एनडीआरएफ की टीम।

एनडीआरएफ की टीम ने डेमो देकर किया जागरूक

इस कार्यशाला में एनडीआरएफ के पटना रेंज के डीआईजी राजेन कुमार एवं उनकी टीम द्वारा विभिन्न आपदाओं से बचाव के लिए डेमो देकर अधिकारियों को जागरूक किया ।इस अवसर पर डीआईजी राजेंद्र कुमार ने कहा कि आपदा के समय हौसला तथा सूझबूझ से काम लेना चाहिए। एक दूसरे को सहयोग करते हुए विकट परिस्थिति में करने के लिए आगे बढ़ते रहना चाहिए।

सचिव डॉक्टर डीडी चटर्जी ने बताया कि 12 मई तक चलने वाले जागरूकता कार्यक्रम में 4 मई को काशी साहू कॉलेज एवं एनआर स्कूल सरायकेला में छात्र छात्राओं को विभिन्न आपदाओं पर जागरुक किया जाएगा। 5 मई को यह कार्यक्रम खरसावां प्रखंड कार्यालय के पास, उत्क्रमित हाई स्कूल खरसावां एवं हाई स्कूल आमदा में रखा गया है ।6 मई को राजनगर के प्रखंड कार्यालय, 8 मई को चांडिल, 9 मई को नीमड़ीह, 10 मई को ईचागढ़, 11 मई को कुकड़ू एवं 12 मई को कपाली नप क्षेत्र में चलेगा।

ऐसे चलेगा कार्यक्रम