• Hindi News
  • Jharkhand
  • Saraikela
  • काशिदा के बरडीह में ग्लेज इंडिया के दो युवकों की मौत से नहीं उठ सका है पर्दा
--Advertisement--

काशिदा के बरडीह में ग्लेज इंडिया के दो युवकों की मौत से नहीं उठ सका है पर्दा

पोस्टमार्टम के बाद ही खुलेगा राज, पुलिस मामले की कर रही है जांच साथ रहने वाले युवक भी मौत के बारे में नहीं दे...

Dainik Bhaskar

May 31, 2018, 04:05 AM IST
काशिदा के बरडीह में ग्लेज इंडिया के दो युवकों की मौत से नहीं उठ सका है पर्दा
पोस्टमार्टम के बाद ही खुलेगा राज, पुलिस मामले की कर रही है जांच

साथ रहने वाले युवक भी मौत के बारे में नहीं दे रहे विस्तृत जानकारी

भास्कर न्यूज | घाटशिला

घाटशिला थाना क्षेत्र के काशिदा (बरडीह) में एक किराए के घर में रहकर ग्लेज इंडिया कंपनी में प्रशिक्षण लेने वाले दो युवकों की संदेहास्पद मौत से पर्दा नहीं उठ पाया है। दोनों की मौत रहस्यमय बनी हुई है। इस संबंध में एसडीपीओ राजेंद्र दुबे ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत से पर्दा उठेगा। साथ रहने वाले युवकों ने भी अपने 2 साथी की मौत के बारे में विस्तृत जानकारी नहीं दे पा रहे हैं। उनके अनुसार सभी ने एक साथ रात को मुर्गा भात खाया था। उसके बाद सो गए थे। इस क्रम में उनके दो साथियों को कब सांप डंस लिया। इसकी जानकारी उन्हें नहीं हो पाई। अचानक जब दोनों युवक उठ कर उल्टी और प्यास लगने की बात कहने लगे तो उन्हें इलाज के लिए अनुमंडल अस्पताल ले जाया गया। वहां से एमजीएम अस्पताल पहुंचाया गया। दोनों युवकों को सांप डंसने के लक्षण मिले होते तो अनुमंडल अस्पताल के चिकित्सक डॉक्टर एस के झा द्वारा रक्षा हेतु एंटी स्नेक वेनम का इंजेक्शन दिया जाता, लेकिन डॉक्टर द्वारा उन्हें इंजेक्शन नहीं दिया गया। साथियों ने बताया कि घटना के 1 दिन पूर्व एक सांप को घर में प्रवेश करने पर मार दिया गया था।

प्रशिक्षु युवकों ने अपना बदला ठिकाना

बुधवार को काशिदा के विभिन्न क्षेत्रों में रहने वाले ग्लेज इंडिया के प्रशिक्षु युवकों ने अपना ठिकाना बदल दिया। एक साथ सभी युवक तामुकपाल काशिदा मुख्य सड़क होते हुए घाटशिला मुख्य शहर की ओर पैदल ही अपने बैग लेकर रवाना हुए। पूछने पर कुछ युवकों ने बताया कि व अन्य स्थान पर रहने के लिए जा रहे हैं। अंथोनी सोय (खूंटी) अनुज कांदेर (खूंटी) मनसित हेंब्रम (खूंटी) अजय हेंब्रम (रांची) सहदेव लोहरा (सरायकेला) विकास तिर्की, विष्णु कुमार महतो (रांची) ये सभी युवक उनके साथ रहते थे। इन युवकों का कहना है कि वह जैविक खाद से संबंधित प्रशिक्षण प्राप्त करने आए हैं। मालूम हो कि यहां करीब 2 हजार से अधिक युवक प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं।

X
काशिदा के बरडीह में ग्लेज इंडिया के दो युवकों की मौत से नहीं उठ सका है पर्दा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..