सरायकेला

  • Home
  • Jharkhand News
  • Saraikela
  • सांडेबुरू स्कूल में तीन दिन से एमडीएम बंद, उपायुक्त ने बीईईओ का वेतन रोका
--Advertisement--

सांडेबुरू स्कूल में तीन दिन से एमडीएम बंद, उपायुक्त ने बीईईओ का वेतन रोका

जिला उपायुक्त छवि रंजन ने बुधवार को खरसावां का औचक निरीक्षण किया। उपायुक्त के निरीक्षण से शिक्षा, स्वास्थ्य व...

Danik Bhaskar

Jun 14, 2018, 04:05 AM IST
जिला उपायुक्त छवि रंजन ने बुधवार को खरसावां का औचक निरीक्षण किया। उपायुक्त के निरीक्षण से शिक्षा, स्वास्थ्य व समेकित बाल विकास विभाग में हड़कंप मंच गया। इस दौरान सांडेबुरू उत्क्रमित मध्य विद्यालय, आंगनबाड़ी केन्द्र, उप स्वास्थ केन्द्र सहित सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में सांडेबुरू उत्क्रमित मध्य विद्यालय में विगत तीन दिनों से मध्याह्न भोजन बंद पाए जाने पर बीईईओ वचन लाल यादव के वेतन पर रोक लगा दी गई है। जबकि स्कूल की पारा शिक्षिका अनिता कुमारी महतो अनुपस्थित रहने पर एक दिन का मानदेय काटा गया। इस स्कूल में 102 में से 44 छात्र-छात्राओं उपस्थित मिले। जबकि स्कूल के प्रधानाध्यापक गणेश महतो शिक्षकों के मासिक गुरुगोष्ठी में गए थे। वहीं सहायक शिक्षक दामोदर पिंगुवा व पारा शिक्षक सेन कुमार महतो उपस्थित पाए गए। इसके अलावे आंगनबाड़ी केन्द्र सांडेबुरू में 5 बच्चे उपस्थित मिले। बच्चों की उपस्थिति कम होने, और योजनाओं का सही लाभ नहीं पहुंचाने पर सेविका रगंबती महतो का वेतन स्थगित रखने का आदेश दिया। साथ ही डीसी ने आंगनबाड़ी केन्द्र को बेहतर ढंग से चलाने का निर्देश दिया। इसके अलावे चिलकू के आंगनबाड़ी केंद्र सी के खाली भवन को सील करने का आदेश दिया। इसके अलावे प्रखंड विकास पदाधिकारी दयानंद प्रसाद जायसवाल के साथ खरसावां व सिमला पंचायत में प्रधानमंत्री आवास का भी निरीक्षण किया।

खरसावां सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र में आयुष चिकित्सक से पूछताछ करते डीसी।

आयुष चिकित्सक पर होगी कार्रवाई - खरसावां सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र में पदस्थापित आयुष चिकित्सक पदाधिकारी डाॅ संजीव रंजन शुक्ला पर नियमित रूप से ड्यूटी से गायब रहते हैं। उन्हे माइक्रोप्लान के तहत हर माह आगंनबाड़ी केन्द्र व विद्यालयों में सेवा देना है। लेकिन पिछले साल में कई माह ऐसे है जिसमें वे गए ही नहीं। कार्रवाई की चेतावनी दी गई।

भास्कर न्यूज| खरसावां

जिला उपायुक्त छवि रंजन ने बुधवार को खरसावां का औचक निरीक्षण किया। उपायुक्त के निरीक्षण से शिक्षा, स्वास्थ्य व समेकित बाल विकास विभाग में हड़कंप मंच गया। इस दौरान सांडेबुरू उत्क्रमित मध्य विद्यालय, आंगनबाड़ी केन्द्र, उप स्वास्थ केन्द्र सहित सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में सांडेबुरू उत्क्रमित मध्य विद्यालय में विगत तीन दिनों से मध्याह्न भोजन बंद पाए जाने पर बीईईओ वचन लाल यादव के वेतन पर रोक लगा दी गई है। जबकि स्कूल की पारा शिक्षिका अनिता कुमारी महतो अनुपस्थित रहने पर एक दिन का मानदेय काटा गया। इस स्कूल में 102 में से 44 छात्र-छात्राओं उपस्थित मिले। जबकि स्कूल के प्रधानाध्यापक गणेश महतो शिक्षकों के मासिक गुरुगोष्ठी में गए थे। वहीं सहायक शिक्षक दामोदर पिंगुवा व पारा शिक्षक सेन कुमार महतो उपस्थित पाए गए। इसके अलावे आंगनबाड़ी केन्द्र सांडेबुरू में 5 बच्चे उपस्थित मिले। बच्चों की उपस्थिति कम होने, और योजनाओं का सही लाभ नहीं पहुंचाने पर सेविका रगंबती महतो का वेतन स्थगित रखने का आदेश दिया। साथ ही डीसी ने आंगनबाड़ी केन्द्र को बेहतर ढंग से चलाने का निर्देश दिया। इसके अलावे चिलकू के आंगनबाड़ी केंद्र सी के खाली भवन को सील करने का आदेश दिया। इसके अलावे प्रखंड विकास पदाधिकारी दयानंद प्रसाद जायसवाल के साथ खरसावां व सिमला पंचायत में प्रधानमंत्री आवास का भी निरीक्षण किया।

महिलाओं को राशि भुगतान करने का निर्देश

उपायुक्त छवि रंजन ने कहा कि सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र खरसावां के द्वारा तीन माह में 193 गर्भवती महिलाओं में 143 महिलाओं को प्रसव के समय आर्थिक सहायता जननी सुरक्षा योजना के तहत प्रोत्साहन राशि दी गई। वहीं लगभग 50 महिलाओं का आधार कार्ड व बैक खाता नंबर नहीं होने के कारण 1400 रुपए की दर से 70 हजार रुपए भुगतान नहीं किया गया है। एक माह के अंदर उनका भुगतान करें। उन्होंने कहा कि अधिकांश मामले में सहिया को भुगतान कर दिया गया है। सहियाओं की जवाबदेही है कि लाभुकों का आधार कार्ड व बैक खाता संख्या जमा कराना सुनिश्चित करें। इस दौरान प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी डाॅ एसएन मांडी को निर्देश दिए गए।

डीसी को नहीं पहचान सके सहायक शिक्षक

आश्चर्य की बात यह है कि सांडेबुरू उत्क्रमित मध्य विद्यालय में पदस्थापित सहायक शिक्षक दामोदर पिंगुवा जिला उपायुक्त को नहीं पहचानते थे। स्कूल के निरीक्षण के बाद दूसरे से पूछ रहे थे कि ये पदाधिकारी कौन हैं। ये सरायकेला से आये हैं क्या? इधर उपायुक्त के निरीक्षण के दौरान उप स्वास्थ केन्द्र सांडेबुरू में एएनएम श्रावनी महतो उपस्थित मिली। जबकि सिकता मुखी के अनुपस्थित रहने पर एक दिन का वेतन काटा गया।

आंगनबाड़ी केन्द्र के भवन में युवकों को देख भड़के

खरसावां के आकर्षिणी पहाड़ी के समीप सुंदरनगर स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र चिलकू-सी के बेकार भवन पर असमाजिक तत्वों का जमावड़ा देखकर उपायुक्त भड़क गए। भवन में आराम फरमा रहे युवकों को खाली कर भवन को सील करने का आदेश दिया। इसके अलावे सीडीपीओ सुप्रिया शर्मा को बुलवाकर स्थानीय पुलिस प्रशासन के साथ भवन को खाली करते हुए सील करने का आदेश दिया। वहीं सामने स्थित नव प्राथमिक विद्यालय का भवन भी खाली करवाने का आदेश दिया।

Click to listen..