• Home
  • Jharkhand News
  • Saraikela
  • नक्सली महाराजा प्रमाणिक की मां को जंगल भेजेगी पुलिस, सरेंडर के लिए करेगी राजी
--Advertisement--

नक्सली महाराजा प्रमाणिक की मां को जंगल भेजेगी पुलिस, सरेंडर के लिए करेगी राजी

जिले का मोस्टवांटेड हार्डकोर नक्सली महाराजा प्रमाणिक को सरेंडर कर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए ऑपरेशन...

Danik Bhaskar | Jun 27, 2018, 04:10 AM IST
जिले का मोस्टवांटेड हार्डकोर नक्सली महाराजा प्रमाणिक को सरेंडर कर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए ऑपरेशन साइक्लोजिकल शुरू किया गया है। एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने महाराजा प्रमाणिक को वापस समाज में लाने के उद्देश्य से मंगलवार को एक बेहतर पहल की। थाना में महाराजा की मां नीलमणि देवी व पिता जरासिंधु को ऐसे परिवारों से मिलाया गया जो महाराजा द्वारा उनके घर उजाड़े गए। थाने में दो ऐसे परिवारों को लाया गया। दोनों परिवारों ने महाराजा की मां नीलमणि देवी और पिता जरा सिंधु से 15 मिनट अकेले में बातचीत भी की। इनमें खरसावां थाना के साईं नर्सिंग होम के संचालक स्वर्गीय योगेश मिश्रा की प|ी मधुमिता उपस्थित रहीं। वहीं एक परिवार कुचाई थाना क्षेत्र के पोलिस भेंगरा की प|ी मरियम भेंगरा अपने पारिवारिक सदस्यों के साथ उपस्थित रहीं। इस दौरान प्लान को लेकर सभी ने चर्चा की। साथ ही महाराजा प्रमाणिक को मुख्यधारा में लाने की बात कही।

प्रमाणिक की मां बाेली- बेटे ने कई घरों को उजाड़ा, अब ऐसा नहीं करेगा

एसपी चंदन कुमार सिन्हा की उपस्थिति में महाराजा प्रमाणिक की मां नीलमणि देवी और पिता जरा सिंधु प्रमाणिक से बातचीत करते पीड़ित परिवार के सदस्य।

एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने बताया... महाराजा प्रमाणिक को मोटिवेट करने के लिए मां को उसके ठिकाने पर छोड़ा जाएगा

एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने बताया कि महाराजा प्रमाणिक को मोटिवेट करने के लिए नीलमणि को उसके ठिकाने पर छोड़ा जाएगा। उसे वापस समाज की मुख्यधारा से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। इसमें उसकी मां नीलमणि देवी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगी। पुलिस द्वारा नीलमणि को महाराजा प्रमाणिक के संभावित ठिकानों के पास पहुंचाने की योजना पर पुलिस ने काम करना शुरू कर दिया है। नीलमणि अपने बेटे महाराजा के पास आसानी से पहुंच कर उसे सरेंडर कर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए प्रेरित कर पाएंगी। एसपी ने कहा कि इस ऑपरेशन में महाराजा प्रमाणिक या उसकी मां नीलमणि देवी पर किसी तरह का पुलिसिया खतरा नहीं रहेगा।

महाराजा की मां नीलमणि देवी ने अपने आंखों से आंसू पोछते हुए कहा कि मेरे बेटे ने जो भी कारनामे किए हैं, वह गलत है। उसने कई परिवारों को उजाड़ा है। कई माताओं की गोद खाली की है, कई प|ियों के मांग का सिंदूर मिटाया है। अब वह ऐसा नहीं करेगा। इसके लिए मैं उसे समझाऊंगी और सरेंडर करा कर समाज की मुख्यधारा में लाउंगा। उन्होंने कहा कि मुझे देखने के लिए उसके अलावा कोई और नहीं है।