Hindi News »Jharkhand »Saraikela» बुखार से पीड़ित महाप्रभु जगन्नाथ आज लेंगे दवा की पहली खुराक

बुखार से पीड़ित महाप्रभु जगन्नाथ आज लेंगे दवा की पहली खुराक

देवस्नान पूर्णिमा पर खट्टा खाकर बुखार से पीड़ित हुए महाप्रभु श्री जगन्नाथ को मंगलवार को दवा की पहली खुराक दी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 03, 2018, 04:10 AM IST

बुखार से पीड़ित महाप्रभु जगन्नाथ आज लेंगे दवा की पहली खुराक
देवस्नान पूर्णिमा पर खट्टा खाकर बुखार से पीड़ित हुए महाप्रभु श्री जगन्नाथ को मंगलवार को दवा की पहली खुराक दी जाएगी। सरायकेला के प्राचीन एवं प्रसिद्ध परंपरागत रथयात्रा संस्कार के तहत इसकी तैयारी की जा रही है। श्री मंदिर के अन्नसर गृह में स्वास्थ्य लाभ कर रहे महाप्रभु को श्री मंदिर के पुजारी पंडित ब्रह्मानंद महापात्र द्वारा बीमारी के पांचवें दिन मंगलवार को दवा की पहली खुराक के रूप में पंचमुलारिष्ट औषधि का सेवन कराया जाएगा। इस अवसर पर जगन्नाथ भक्त श्री मंदिर के प्रांगण में भजन कीर्तन करेंगे।

प्राकृतिक रूप से होता है महाप्रभु की औषधि का निर्माण

स्वर्गीय लखमीन्धर मालाकार की चौथी पीढ़ी के 80 वर्षीय तारापद मालाकार महाप्रभु के उक्त सभी कार्यों को संपादित कर रहे हैं।

ऐसे तैयार होती है महाप्रभु की औषधि पंचमूलारिष्ट औषधि मैं 5 प्राकृतिक फलों हडिया, हरा आंवला, कुड एवं काफल का सहयोग होता है। औषधि का निर्माण तुलसीदल की छांव तले मध्यरात्रि में नए चूल्हे पर की जाती है। जिस में पूरी पवित्रता के साथ 1 किलो जल में उक्त फलों को एक पाव पानी शेष रहने तक उबाला जाता है। नए वस्त्र से उसे छाना जाता है।

देव स्नान पूर्णिमा पर महाप्रभु के ज्वर से पीड़ित होने के बाद उन्हें पांचवें दिन पर यानी मंगलवार को पंचमुलारिष्ट औषधी का सेवन कराया जाएगा। इसे लेकर धार्मिक संस्कारों के आयोजन की तैयारी की जा रही है। पंडित ब्रह्मानंद महापात्र, पुजारी, जगन्नाथ श्री मंदिर।

रथ यात्रा के कार्यक्रम

13 जुलाई- नेत्र उत्सव। 14 जुलाई- श्री मंदिर से प्रस्थान के साथ रथ यात्रा प्रारंभ। 15 जुलाई- महाप्रभु का अपनी बहन सुभद्रा एवं बड़े भाई बलभद्र के साथ गुंडिचा मंदिर मौसी बाड़ी आगमन। 16 जुलाई- विपदातारणी व्रत। 18 जुलाई- हेरा पंचमी पर रथभांगिनी। 22 जुलाई- बाउड़ा के साथ घूरती रथ। 23 जुलाई- महाप्रभु का श्री मंदिर आगमन; देवशयनी एकादशी के साथ चातुर्मास शयन।

इधर...खरसावां में 4 से 23 तक रथयात्रा को लेकर प्रस्ताव पारित

थाना चौक से अनुमंडल चौक तक मांस मंदिरा अंडा की बिक्री पर प्रतिबंध रहेगा मेला में सभी प्रकार के खाद्य पदार्थ ताजा गुणवत्ता युक्त व उचित मूल्य विक्रय करवाने का निर्णय लिया गया। मेले में मनोरंजन के लिए ब्रेक डांस, बिजली झूला, नाव, ड्रेगन ट्रेन, मिकी माउस, मीना बाजार, घरेलू सामान, खिलौना, फास्ट फूड, स्नैक्स इत्यादि स्टॉल लगाए जाएंगे। हर साल की तरह इस साल भी देव सभा में श्री कृष्ण का योगमाया अवतार रासलीला का चित्रण किया जाएगा जो आकर्षण का केंद्र होगा जबकि धन्यवाद ज्ञापन विक्की कुमार साहू के द्वारा किया गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Saraikela

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×