• Hindi News
  • Jharkhand
  • Tamar
  • संत थॉमस का सातवीं कक्षा का छात्र रात नौ बजे हॉस्टल से भाग शराब चखना खरीदा, सुबह तालाब से लाश बरामद हुआ
--Advertisement--

संत थॉमस का सातवीं कक्षा का छात्र रात नौ बजे हॉस्टल से भाग शराब-चखना खरीदा, सुबह तालाब से लाश बरामद हुआ

Tamar News - तुपुदाना ओपी क्षेत्र के सिलादोन बांधटोली गांव से मंगलवार को पुलिस ने सचिन एक्का नामक छात्र का शव तालाब से बरामद...

Dainik Bhaskar

Mar 14, 2018, 03:20 AM IST
संत थॉमस का सातवीं कक्षा का छात्र रात नौ बजे हॉस्टल से भाग शराब-चखना खरीदा, सुबह तालाब से लाश बरामद हुआ
तुपुदाना ओपी क्षेत्र के सिलादोन बांधटोली गांव से मंगलवार को पुलिस ने सचिन एक्का नामक छात्र का शव तालाब से बरामद किया। पुलिस ने बताया कि सचिन का शव बांधटोली के छोटा तालाब में पानी से आधा बाहर निकला हुआ था। आसपास के लोगों ने बताया कि सचिन संत थॉमस मिडिल एंड हाई को एजुकेशन स्कूल, तुपुदाना में सातवीं कक्षा का छात्र था। वह यहां तीन वर्षों से हॉस्टल में रह कर पढ़ाई कर रहा था। वह मूल रूप से पिठौरिया थाना क्षेत्र के सामुदा गांव का रहने वाला था।

वहीं स्कूल के प्रिंसिपल हिलारियुस लकड़ा ने बताया कि सचिन को सोमवार रात 10 बजे अंतिम बार हॉस्टल में देखा गया था। उसके बाद उसका शव तालाब में कैसे मिला, उन्हें कुछ पता नहीं। सचिन पहले भी बिना बताए कई बार हॉस्टल से भाग चुका है। सूचना पाकर पहुंचे तुपुदाना थाना प्रभारी प्रकाश यादव, डीएसपी हटिया विकास पांडेय ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। शव में कहीं भी जख्म का निशान नहीं था, लेकिन नाक से खून बह रहा था।

प्रिंसिपल की सफाई : रात 10 बजे अंतिम बार देखा गया था हॉस्टल में, फिर क्या हुआ मुझे पता नहीं

पुलिस की नजर में बच्चे की मौत संदेहास्पद व जांच का विषय

पुलिस के अनुसार अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मामले का खुलासा होगा। पुलिस मामले को संदिग्ध मानकर चल रही है। इधर, सचिन के पिता जीरेने एक्का ने कहा कि वे एक सप्ताह पहले अपने पुत्र से मिल कर गए थे। शव देखने से किसी बड़े साजिश का अंदेशा लगता है। सचिन के एक सहपाठी ने पुलिस को गुप्त रूप से बताया कि सोमवार रात करीब नौ बजे बाथरूम के रास्ते से भाग कर हम दोनों शराब खरीदने गए थे। हम दोनों शराब खरीद कर वापस हॉस्टल में आ गए। उसके बाद सचिन के साथ क्या हुआ, मुझे नहीं मालूम।

अगर स्कूल प्रबंधन दोषी हुआ तो कड़ी कार्रवाई : आयोग

स्कूल में 150 बोर्डिंग और 600 डे स्कॉलर, पर सुरक्षा इंतजाम नहीं

संत थॉमस स्कूल में 750 बच्चे पढ़ते हैं। इसमें 150 बो तथा 600 डे स्कॉलर हैं। लेकिन सुरक्षा के नाम पर यहां न तो गार्ड है और न ही सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। बच्चों की देखभाल के लिए कोई हॉस्टल वार्डन भी नहीं रखा गया है। वर्ष 2008 से संचालित इस स्कूल में पूर्व में भी दो छात्र लापता हो गए थे, जिसकी काफी मशक्कत के बाद बरामदगी हुई थी। इधर, छात्र की संदेहास्पद मौत की सूचना मिलने पर बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष आरती कुजूर भी तुपुदाना ओपी पहुंचीं और पुलिस कर्मियों समेत कई लोगों से पूछताछ की। अध्यक्ष ने कहा कि इस मामले में दोषी पाए जाने पर स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मामला बच्चों की सुरक्षा से जुड़ा है।

X
संत थॉमस का सातवीं कक्षा का छात्र रात नौ बजे हॉस्टल से भाग शराब-चखना खरीदा, सुबह तालाब से लाश बरामद हुआ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..