• Hindi News
  • Jharkhand
  • Tamar
  • मुंगेर: लापता बच्ची का शव मिला उग्र भीड़ ने थाने पर की तोड़फोड़
--Advertisement--

मुंगेर: लापता बच्ची का शव मिला उग्र भीड़ ने थाने पर की तोड़फोड़

भास्कर न्यूज| असरगंज (मुंगेर) असरगंज थाना क्षेत्र के मुख्य बाजार स्थित शौण्डिक भवन मुहल्ले से बीते बुधवार सुबह...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:35 AM IST
मुंगेर: लापता बच्ची का शव मिला उग्र भीड़ ने थाने पर की तोड़फोड़
भास्कर न्यूज| असरगंज (मुंगेर)

असरगंज थाना क्षेत्र के मुख्य बाजार स्थित शौण्डिक भवन मुहल्ले से बीते बुधवार सुबह से लापता छह वर्षीय बच्ची पलक का शव गुरुवार को स्थानीय जलालाबाद पोखर से बरामद हाेते ही असरगंज के लोगों का अाक्राेश फूट पड़ा अाैर लोगों ने पुलिस के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। ग्रामीणाें ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए असरगंज थाने का घेराव कर पथराव किया। पथराव में थानेदार और एक जवान जख्मी हो गया।

लोगों ने असरगंज-सुल्तानगंज और असरगंज-देवघर मार्ग को जाम कर टायर जलाकर प्रदर्शन किया। पुलिस जवानों ने भी जवाब में पत्थर फेंके। बाद में मौके पर खड़गपुर एसडीपीओ के साथ ही भागलपुर जिले के बाथ थाने से पहुंची पुलिस टीम ने प्रदर्शनकारियों पर हल्का बल प्रयोग करते हुए खदेड़ दिया। पुलिस ने शव जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। उधर, परिजनों ने बच्ची से दुष्कर्म कर हत्या की आशंका जताई है। उनका कहना था कि अगर पुलिस सक्रिय होती तो बच्ची आज जिंदा होती। ग्रामीणों ने सुलतानगंज-देवघर मुख्य पथ पर लाश रखकर तीन घंटे तक जाम व प्रदर्शन किया। असरगंज थाना में पथराव करते हुए जमकर तोड़फोड़ की। थाने के बाहर लगे साईन बोर्ड को उखाड़ फेंका तो साथ ही खिड़कियों के शीशे तोड़ डाले।

फूटा गुस्सा

चार उपद्रवी हिरासत में, 330 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज, छापेमारी जारी

पुलिस थाने पर तोड़फोड़ व प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया। वही बाजार में आगजनी एवं सड़क जाम करने के मामले में दो अलग-अलग मामले दर्ज किए हैं। इसमें 30 व 300 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

पथराव में थानेदार व जवान जख्मी

हलवा बनाने के लिए सूजी लाने पलक गई थी बाजार : मां बार-बार उस पल को भी कोस रही थी जब उसने पलक को सूजी लाने के लिए बाजार भेजा था। बुधवार की सुबह बच्ची ने मां से हलवा खाने की मांग की थी। मां ने उसे बगल की दुकान से सूजी लाने भेज दिया था। बाद से उसकी लाश लौटी।

शव से लिपट बार-बार कह रही थी मां-उठो बेटी, सुबह हो गई है, स्कूल नहीं जाओगी

मृतक पलक की मां कौशल्या एवं पिता प्रभाकर साह के चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया था। मां बार-बार शव से लिपट पूछ रही थी कि उसके हाथ और गले में चाेट कैसे लगी। वह उसे नींद से जागने का आग्रह कर रही थी कि उठो सुबह हो गया है। स्कूल नहीं जाओगी।

X
मुंगेर: लापता बच्ची का शव मिला उग्र भीड़ ने थाने पर की तोड़फोड़
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..