• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Tamar
  • हजारीबाग : अनु पाठक हत्याकांड में महिला इंस्पेक्टर मंजू ठाकुर हिरासत में
--Advertisement--

हजारीबाग : अनु पाठक हत्याकांड में महिला इंस्पेक्टर मंजू ठाकुर हिरासत में

अनु पाठक हत्या कांड में बेटी कृति पाठक के बयान पर बड़ी बाजार टीओपी में मामला दर्ज कर लिया गया। इसमें मृतका के पति...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:30 PM IST
अनु पाठक हत्या कांड में बेटी कृति पाठक के बयान पर बड़ी बाजार टीओपी में मामला दर्ज कर लिया गया। इसमें मृतका के पति विनोद पाठक को नामजद अभियुक्त बनाया गया है। बयान में आए नाम के आधार पर पुलिस ने बुधवार दोपहर पीटीसी की पुलिस इंस्पेक्टर मंजू ठाकुर को हिरासत में लिया है।पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।

इधर शव का सदर अस्पताल में मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने के बाद मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान मृतका के भाई बमबम झा मौजूद थे। वहीं पति विनोद पाठक मंगलवार सुबह से फरार है। पुलिस उसके मोबाइल नंबर से लोकेशन ट्रेस करने में जुटी है। मंगलवार शाम तक शहर के शिवपुरी में उसके मोबाइल का लोकेशन मल रहा था। फिर चार बजे शाम से उसका लोकेशन का पता नहीं चल रहा था।

हिरासत में ली गई महिला पुलिस पदाधिकारी मंजू ठाकुर का कहना है कि इस घटना से उसका कोई लेना देना नहीं है। विनोद पाठक से व्यावसायिक संबंध रहा है। मृतका की बेटी कृति बेवजह फंसा रही ह, जबकि थाने में पुलिस की मौजूदगी में कृति ने काउंटर डिस्कशन में कहा कि महिला पुलिस इस्पेक्टर से कहा कि वह मम्मी की हत्या की जिम्मेदार है। उसने इंस्पक्टर से कहा, तुम मेरे घर पर आती थी। रुकती भी थी। पापा के साथ राजस्थान भी गई थी। मेरे घर के किचन में भी जाती थी और आज सब बात छुपा रही हो। मंजू ने कहा कि विनोद पाठक से वर्ष 2013 में पतंजलि योग पीठ के माध्यम से परिचय बना। हम भारत स्वाभिमान ट्रस्ट से जुड़ कर काम करते रहे। दोनों ने पार्टनरशिप में मटवारी में ऑफिस सह दुकान खोली। मैं कंपनी की ओर से राजस्थान टूर पपर गई थी, तब विनोद भी साथ थे। अभी उनसे पूछताछ जारी है। इधर कुछ ऐसे संदिग्ध भी दिखे, जिनकी भूमिका बच्चों का हमदर्द बन कर उनपर निगरानी करने जैसी थी। वे मृतका के भाई को मीडिया से दूर रखने में जुटे थे। टीओपी प्रभारी नथुनी प्रसाद ने कहा कि सारी एक्टिविटी पर नजर है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..