--Advertisement--

दहेज हत्या के आरोपी पति को 10 वर्ष सश्रम कारावास

तेनुघाट व्यवहार न्यायालय के जिला जज द्वितीय गुलाम हैदर ने दहेज हत्या के आरोप में नावाडीह थाना के लहिया निवासी पति...

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2018, 04:00 AM IST
तेनुघाट व्यवहार न्यायालय के जिला जज द्वितीय गुलाम हैदर ने दहेज हत्या के आरोप में नावाडीह थाना के लहिया निवासी पति अयूब अंसारी को दोषी पाते हुए दस साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई। नवाडीह थाना के सहरिया निवासी मो मौला अंसारी ने नावाडीह थाना प्रभारी के समक्ष 15 अगस्त 2013 को बयान दर्ज कराया कि उसकी बहन नुरेशा खातून की शादी लगभग दो माह पहले लहिया निवासी आयुब अंसारी के पुत्र अख्तर अंसारी के साथ मुस्लिम रीति रिवाज से ग्राम सहरिया में हुई थी। शादी में 25000 रुपए नगद और समान दिए थे। शादी के 15 दिन के बाद से ही नुरेशा खातून को उसके पति अख्तर अंसारी, ससुर अयूब अंसारी, सास फातमा बीबी आदि पताड़ति करने लगे।

मां की हत्या का आरोपी पुत्र दोषी करार

बोकारो |
बोकारो के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश प्रथम रंजीत कुमार की अदालत ने सत्र वाद संख्या 85/16 का सुनवाई करते हुए मां की हत्या करने वाले कलियुगी पुत्र को भादवि की धारा 302 का दोषी पाया है। चंदनकियारी थाना कांड संख्या 171/16 में दर्ज प्राथमिकी में ताजुद्दीन अंसारी पर अपनी मां नूरजहां बीबी की पत्थर पर पटक पटक कर हत्या करने का आरोप था।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..