• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Tenughat News
  • ढोरी जीएम और विस्थापितों के बीच हुई वार्ता विफल, अब 7 को फिर बैठेंगे
--Advertisement--

ढोरी जीएम और विस्थापितों के बीच हुई वार्ता विफल, अब 7 को फिर बैठेंगे

सीसीएल ढोरी प्रक्षेत्र में बंद पड़ी पिछरी कोलियरी के प्रभावित रैयतों एवं ढोरी जीएम मनोज कुमार अग्रवाल के साथ...

Dainik Bhaskar

Aug 06, 2018, 04:10 AM IST
ढोरी जीएम और विस्थापितों के बीच हुई वार्ता विफल, अब 7 को फिर बैठेंगे
सीसीएल ढोरी प्रक्षेत्र में बंद पड़ी पिछरी कोलियरी के प्रभावित रैयतों एवं ढोरी जीएम मनोज कुमार अग्रवाल के साथ कोलियरी से सटे टुंगरी कुल्ही में बैठक हुई। इसमें जीएम अग्रवाल ने रैयतों से कहा कि कोलियरी को चालू करने दिया जाए। यहां के रैयतों का जो हक बनता है, सीसीएल एवं कोल इंडिया के नियम एवं शर्त के अनुसार नौकरी, मुआवजा, पुनर्वास एवं बेरोजगारो को रोजगार मुहैया कराया जाएगा।

रैयतों ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि सीसीएल प्रबंधन एवं गांव के कुछ दलाल किस्म के लोगों ने ठगने का काम किया है। इससे 34 एकड़ 58 डिसमिल में सीसीएल कोयला खनन कर लिया। इसमें 10 एकड़ जमीन पर दो रैयतों का तेनुघाट कोर्ट में मामला चल रहा है। काेर्ट के मामले पर जीएम ने कहा कि काेर्ट का जो भी फैसला आएगा वह स्वीकार है। वार्ता के बीच रैयतों ने कहा कि रैयतों की अगुवाई कर रहे नेता काशीनाथ सिंह के उपस्थिति में वार्ता करेंगे। इन सब बातों को लेकर 7 अगस्त को टुंगरी कुल्ही में सीसीएल प्रबंधन रैयत एवं काशीनाथ सिंह के उपस्थिति में बैठक की सहमति बनी। सीसीएल प्रबंधन की ओर से ढोरी जीएम मनोज कुमार अग्रवाल, पीओ पीएन यादव, एसओ ईएंडएम लाल साहेब, एसओए एसके सिंह, एसओ पीएंडपी राजेश कुमार, एसपी महतो, आरपी महतो, रैयतो एवं मोर्चा के पदाधिकारी शामिल हुए।

रैयतों के साथ बैठक करते सीसीएल के अधिकारी।

X
ढोरी जीएम और विस्थापितों के बीच हुई वार्ता विफल, अब 7 को फिर बैठेंगे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..