Hindi News »Jharkhand »Tenughat» ड्राइवर को आई नींद तो एम्बुलेंस हुई दुर्घटनाग्रस्त

ड्राइवर को आई नींद तो एम्बुलेंस हुई दुर्घटनाग्रस्त

दुर्घटनाग्रस्त एम्बुलेंस। भास्कर न्यूज | साड़म तेनुघाट अनुमंडलीय अस्पताल से चलने वाली 108 नंबर एम्बुलेंस जेएच 01...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 27, 2018, 04:21 AM IST

ड्राइवर को आई नींद तो एम्बुलेंस हुई दुर्घटनाग्रस्त
दुर्घटनाग्रस्त एम्बुलेंस।

भास्कर न्यूज | साड़म

तेनुघाट अनुमंडलीय अस्पताल से चलने वाली 108 नंबर एम्बुलेंस जेएच 01 सीजे 5025 गुरुवार को सुबह पेटरवार के चिनियागढ़ा में असंतुलित होकर पलट गई। इसमें एम्बुलेंस चालक विजय पूर्ति और उपचालक फिरोज को मामूली चोटें आई। तेनुघाट अनुमंडलीय अस्पताल की उपाधीक्षक डॉ. पार्वती नाग ने बताया कि चालक को झपकी आ गई थी। इस कारण यह दुर्घटना हुई है। 24 घंटे निःशुल्क चलने वाले 108 एम्बुलेंस में 12-12 घंटे के लिए चार कर्मचारी नियुक्त हैं। एक चालक और एक उपचालक की ड्यूटी 12 घंटे की होती है। बीती रात 8 बजे दूसरे चालक के ड्यूटी पर नहीं आने से दिन में कार्यरत विजय को ही रात की पाली की ड्यूटी करनी पड़ी। वहीं रात को पेटरवार स्वास्थ्य केंद्र से घायल को लेकर रांची रिम्स में एडमिट कराकर वापस तेनुघाट आने के क्रम में सुबह 5:30 बजे यह हादसा हो गया।

भास्कर न्यूज | साड़म

तेनुघाट अनुमंडलीय अस्पताल से चलने वाली 108 नंबर एम्बुलेंस जेएच 01 सीजे 5025 गुरुवार को सुबह पेटरवार के चिनियागढ़ा में असंतुलित होकर पलट गई। इसमें एम्बुलेंस चालक विजय पूर्ति और उपचालक फिरोज को मामूली चोटें आई। तेनुघाट अनुमंडलीय अस्पताल की उपाधीक्षक डॉ. पार्वती नाग ने बताया कि चालक को झपकी आ गई थी। इस कारण यह दुर्घटना हुई है। 24 घंटे निःशुल्क चलने वाले 108 एम्बुलेंस में 12-12 घंटे के लिए चार कर्मचारी नियुक्त हैं। एक चालक और एक उपचालक की ड्यूटी 12 घंटे की होती है। बीती रात 8 बजे दूसरे चालक के ड्यूटी पर नहीं आने से दिन में कार्यरत विजय को ही रात की पाली की ड्यूटी करनी पड़ी। वहीं रात को पेटरवार स्वास्थ्य केंद्र से घायल को लेकर रांची रिम्स में एडमिट कराकर वापस तेनुघाट आने के क्रम में सुबह 5:30 बजे यह हादसा हो गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Tenughat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×