Hindi News »Jharkhand »Thethaitanger» स्वच्छ भारत अभियान में सिमडेगा के जज्बे का पूरे देश में होगा प्रचार

स्वच्छ भारत अभियान में सिमडेगा के जज्बे का पूरे देश में होगा प्रचार

भास्कर न्यूज | ठेठईटांगर/सिमडेगा सिमडेगा के लोग ऊर्जावान और उत्साही हैं। खासकर महिलाएं बहुत मेहनती हैं और...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 03:35 AM IST

भास्कर न्यूज | ठेठईटांगर/सिमडेगा

सिमडेगा के लोग ऊर्जावान और उत्साही हैं। खासकर महिलाएं बहुत मेहनती हैं और सरकार के स्वच्छता अभियान को सफल बनाने में जुटी हैं। यह बातें केंद्र सरकार में पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय के सचिव परमेश्वरन अय्यर ने गुरुवार को अंबापानी में आयोजित स्वच्छता संवाद कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि जिले में स्वच्छ भारत अभियान की सफलता की कहानी प्रेरणा देने वाली है। उनका मंत्रालय इसका प्रचार-प्रसार पूरे देश में करेगा। बांसजोर प्रखंड के कोंबाकेरा में रहने वाले रामकुमार लुगुन की कहानी उन्हें बताई गई है। रामकुमार ने अपनी मेहनत से ससुराल तथा गांव को खुले में शौच से मुक्त बनाने का काम किया था। अय्यर ने उसे रियल हीरो बताते हुए तारीफ की। अंबापानी गांव की छात्रा अमुनी डुंगडुंग की भी चर्चा की।

उन्होंने कहा कि इस बच्ची ने कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में रहते हुए अपनी मां को चिट्‌ठी लिखी थी कि घर में शौचालय बनवाएं तभी वह घर आएगी। बिहार के चंपारण जिले के टुकरौली गांव के स्कूली बच्चे भी पत्र लिखकर अभिभावकों को शौचालय बनाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। स्वच्छ भारत अभियान के राज्य में अतिरिक्त निदेशक राजेश कुमार ने भी अपने विचार रखे। इससे पहले अधिकारियों के हेलिकाप्टर से जोराम पहुंचने के बाद सड़क मार्ग से कार्यक्रम स्थल पहुंचने पर ग्रामीणों ने जोरदार स्वागत किया। अधिकारियों को सखुआ के पत्तों से माला और बांस की बनी खास टोपी भी पहनाई। इस टोपी में चारों ओर फूल लटक रहे थे। कार्यक्रम में अंबापानी गांव में शौचालय निर्माण में राजमिस्त्री का काम करने वाली दो महिलाओं को सम्मानित किया। सेवानिवृत्ति की राशि लगाकर गांव को ओडीएफ बनाने वाली जिले में स्वच्छ भारत अभियान की ब्रांड एंबेसेडर बासेन पंचायत की पूर्व मुखिया दोरोथिया केरकेट्टा भी सम्मानित हुईं। अपनी मां को शौचालय बनाने के लिए चिट्‌ठी लिखने वाली बच्ची अमुनी भी सम्मानित हुईं। उसे पांच हजार रुपए का चेक मुख्य अतिथि सचिव अय्यर ने प्रदान किया।

ठेठईटांगर पंचायत के मुखिया बंधु मांझी भी अपनी पंचायत को सबसे पहले ओडीएफ करने की सफलता के लिए सम्मानित हुए। इस मौके पर पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के केंद्र में सलाहकार आनंद शेख, यूनिसेफ के स्वच्छता विशेषज्ञ कुमार प्रेमचंद, एसपी दीपक कुमार सिन्हा, डीडीसी मनोहर मरांडी, प्रशिक्षु डीएसपी विजय कुमार कुशवाहा, कार्यपालक दंडाधिकारी मयंक भूषण, बीडीओ शिवाजी भगत, सीओ पीएस डोना मिंज सहित कई लोग उपस्थित थे।

आम लोगाें के साथ माैजूद अधिकारी।

अंबापानी का स्वच्छता अभियान राज्य में अनुकरणीय : सीएस :मुख्य सचिव राजबाला वर्मा ने कहा कि अंबापानी में स्वच्छता के लिए चला अभियान राज्य में अनुकरणीय है। स्वच्छता एक ऐसा पहलु है जो हर व्यक्ति को निजी एवं सामाजिक व्यक्ति को प्रभावित करता है। परिवार में महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों काे सम्मान की जिंदगी दिए बगैर एक सभ्य समाज की परिकल्पना करना बेमानी है। उन्होंने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री ने महिलाओं और ग्राम समितियों को काफी अधिकार दिए हैं।

अभियान में अव्वल है सिमडेगा जिला : आराधना :राज्य के पेयजल एवं स्वच्छता विभाग की सचिव आराधना पटनायक ने कहा कि स्वच्छता संवाद का पहला कार्यक्रम सिमडेगा में इसलिए आयोजित किया गया है क्योंकि यह जिला अभियान में अव्वल है। यहां बन रहे शौचालयों में गुणवत्ता का पूरा ख्याल रखा जा रहा है। लोगों की भागीदारी सराहनीय है। महिलाएं अभियान की पूंजी हैं तथा जिला प्रशासन ने इस अभियान को काफी गंभीरता से ले रखा है।

शौचालय निर्माण में अहम रहा महिलाओं का योगदान : डीसी :डीसी मंजुनाथ भजन्त्री ने कहा कि महिला सशक्तीकरण के लिए आज का दिन महत्वपूर्ण है। महिला समूहों, आम महिलाओं तथा ग्रामीण क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के सहयोग से स्वच्छ भारत अभियान यहां जन आंदोलन के रूप में चला है। एक वर्ष में यहां ओडीएफ का प्रतिशत दस से बढ़कर 65 प्रतिशत पहुंच गया है। 100 घंटे में दस हजार शौचालय निर्माण का लक्ष्य लेकर 11 हजार शौचालय पूर्ण किए गए हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Thethaitanger

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×