• Home
  • Jharkhand News
  • Torpa
  • उत्कृष्ट कार्य करने वाले बीडीओ, बीपीओ प्रखंड समन्वयक व मुखिया होंगे सम्मानित
--Advertisement--

उत्कृष्ट कार्य करने वाले बीडीओ, बीपीओ प्रखंड समन्वयक व मुखिया होंगे सम्मानित

समाहरणालय सभागार में बुधवार को उपायुक्त सूरज कुमार की अध्यक्षता में ग्रामीण विकास संबंधी जिला समन्वय समिति की...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 04:00 AM IST
समाहरणालय सभागार में बुधवार को उपायुक्त सूरज कुमार की अध्यक्षता में ग्रामीण विकास संबंधी जिला समन्वय समिति की बैठक हुई। बैठक में उपायुक्त ने ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज से संबंधित योजनाओं की समीक्षा करते हुए सभी बीडीओ, बीपीओ, प्रखंड समन्वयक, क्लस्टर सुविधा केंद्र, कनीय अभियंताओं को कहा कि आप मनरेगा के मशीनरी हैं, आपको कार्याे को पूर्ण करने की पूर्ण जिम्मेवारी लेनी होगी। प्रत्येक गांव में लेबर इंटेन्सिव पांच-छह योजनाओं का चयन करें ताकि अधिक से अधिक मानव दिवस सृजन किया जा सके।

कहा कि मनरेगा अंतर्गत कार्यरत सभी मजदूरों का आधार एवं खाता से लिंक करना सुनिश्चित करें। उपायुक्त ने कहा कि योजनाएं ग्रामसभा के द्वारा ही चयनित होकर आनी चाहिए एवं उन योजनाओं का क्रियान्वयन प्राथमिकता के आधार पर करें। योजनाओं की गुणवत्ता में किसी तरह की कमी नहीं आनी चाहिए। उपायुक्त ने मनरेगा की समीक्षा में जीरो मस्टर रोल पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि जीरो मस्टर रोल किसी भी कीमत पर नहीं दिखना चाहिए। तोरपा प्रखंड अंतर्गत बैंकों से मजदूरी भुगतान को लेकर आ रही शिकायत पर उपायुक्त ने जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक को कहा कि मजदूरों के लिए एक दिन सुनिश्चित करें कि मनरेगा, पेंशन, स्वयं सहायता समूह आदि योजनाओं से संबंधित भुगतान किया जा सके। लोगों का भरोसा जीतें इससे जमीनी स्तर पर कार्य करने में सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि जिन प्रखंडों में मनरेगा, सांसद आदर्श ग्राम योजना, सीएफटी पेंशन योजना, चौदहवें वित्त आयोग एवं ओवरऑल योजनाओं में उत्कृष्ट कार्य करेंगे उन प्रखंडों के बीडीओ, बीपीओ, प्रखंड समन्वयक, मुखिया, रोजगार सेवक, कंप्यूटर ऑपरेटर, मेट आदि को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा। सभी बीडीओ को अपने देखरेख में नये बन रहे प्रखंड कार्यालय भवनों को पूर्ण कराने कहा। उन्होंने पूरे प्रखंड कैम्पस को इंटरनेट युक्त करें। जहां मोबाइल टावर लगे हैं एवं नेटवर्क कार्य नहीं कर रहा है, उनकी सूची दें ताकि उन्हें अद्यतन किया जा सके। जेएसएलपीएस के डीपीएम को शेष बचे स्वयं सहायता समूहों को बैंक से लिंकेज करने को कहा। उपायुक्त ने कहा कि जल्द रोजगार मेला लगाया जाय तथा गांव के लोगों को अधिक से अधिक रोजगार मुहैय्या कराने वाले योजनाओं को क्रियान्वित कराएं। उपायुक्त ने सभी बीडीओ को कहा कि आप एक-एक गांव को माॉडल गांव में विकसित करें। साथ ही गांव के हर खेत में पानी पहुंचाने का योजना तैयार करें। उन्होंने सख्त हिदायत दी कि सभी बीपीओ मुख्यालय में आवासित रहेंगे। उन्होंने जॉॅब कार्ड का भौतिक सत्यापन करने का निर्देश दिया। बैठक में डीडीसी, डीआरडीए निदेशक, जिला योजना पदाधिकारी, एसडीओ, जिला परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी, विभिन्न विभागों ईई,बीडीओ, आदि उपस्थित थे।

समाहरणालय सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक करते डीसी सूरज कुमार।