• Hindi News
  • Jharkhand
  • Torpa
  • आरसी चर्च में 736 बच्चों का कराया गया पवित्र सुदृढ़ीकरण संस्कार
--Advertisement--

आरसी चर्च में 736 बच्चों का कराया गया पवित्र सुदृढ़ीकरण संस्कार

Torpa News - आरसी चर्च तोरपा में पवित्र सुदृढ़ीकरण अनुष्ठान का आयोजन किया गया। मुख्य अनुष्ठाता बिशप विनय कंडूलना ने अनुष्ठान...

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2018, 04:15 AM IST
आरसी चर्च में 736 बच्चों का कराया गया पवित्र सुदृढ़ीकरण संस्कार
आरसी चर्च तोरपा में पवित्र सुदृढ़ीकरण अनुष्ठान का आयोजन किया गया। मुख्य अनुष्ठाता बिशप विनय कंडूलना ने अनुष्ठान के दौरान कुल 736 बच्चों का सुदृढ़ीकरण संस्कार संपन्न कराया। समस्त अनुष्ठान बिशप विनय कंडुलना की उपस्थिति में संपन्न हुआ। इस दौरान उन्होंने कहा कि सुदृढ़ीकरण संस्कार पाने वाले युवक युवतियां प्रभु के करीब होते हैं, उन्होंने पवित्र बाईबल में दर्ज कई बातों का जिक्र किया तथा कहा कि युवा ही समाज को नई दिशा देंगे।

युवाओं को समाज की बुराइयों से दूर रह कर समाज के विकास के लिए ध्यान देना चाहिए। उन्होंने अपने संबोधन के दौरान पारिवारिक दायित्वों की ओर युवाओं का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा कि माता पिता का सम्मान करें और बुर्जुगों की संगत में रहने से ही हमारा भविष्य सफल हो सकता है। इससे पूर्व सुदृढ़ीकरण संस्कार में शामिल सभी युवक युवतियों को स्नान विधि (बबतिस्मा) संस्कार कराया गया, संस्कार विधि पंंचगन के तत्वावधान में संपन्न हुआ। मौके पर फादर ने पवित्र बाइबिल से आशीष वचन पढ़कर सुनाया और ईश्वरीय आशीष से अनुगृहित किया। पवित्र सुदृढ़ीकरण संस्कार तोरपा, विरता, दियांकेल, बड़का टोली, जरका टोली सहित टोलो से युवक युवतियों ने संस्कार ग्रहण किया। मौके पर फादर मसीह प्रकाश सोय, फादर विलियम तोपनो, फादर विलफ्रेड बागे, फादर सिब्रियन डांग, फादर जेम्स सुरीन, फादर फ्रांसिस होरो, फादर जस्टीन, फादर विजय तोपनो, सिस्टर प्रिसिंता, सिस्टर अलमा बिलुंग, सिस्टर उर्मिला, सभापति विजय गुडि़या, अडोल्ब सामसोन तोपनो, बेनेदिक नौरंगी, धर्मदास तोपनो, सिरिल हेमरोम, विलियम डांहगा, एलिन मिंज, एग्नेशिया आईंद, सहित क्षेत्र के सैंकड़ो की संख्या में मसीह विश्वासी उपस्थित थे।

बच्चों का सुदृढ़ीकरण संस्कार संपन्न कराते बिशप विनय कंडुलना।

X
आरसी चर्च में 736 बच्चों का कराया गया पवित्र सुदृढ़ीकरण संस्कार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..