• Home
  • Jharkhand News
  • Torpa
  • तय की डेडलाइन, कहा- योजनाएं पूरी नहीं हुई तो कार्रवाई के लिए रहें तैयार
--Advertisement--

तय की डेडलाइन, कहा- योजनाएं पूरी नहीं हुई तो कार्रवाई के लिए रहें तैयार

डीडीसी चंद्रकिशोर मंडल शुक्रवार को प्रखंड मुख्यालय स्थित किसान भवन में समीक्षा बैठक की। इसमें मंडल ने...

Danik Bhaskar | Apr 07, 2018, 04:45 AM IST
डीडीसी चंद्रकिशोर मंडल शुक्रवार को प्रखंड मुख्यालय स्थित किसान भवन में समीक्षा बैठक की। इसमें मंडल ने प्रधानमंत्री आवास की पंचायतवार समीक्षा करते हुए उपस्थित पंचायत सेवक, जनसेवक, रोजगार सेवक व स्वयंसेवक को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। मौके पर डीडीसी ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2016-17 के सभी लंबित आवास को 20 अप्रैल तक पूर्ण करें। 2017-18 की आवास योजनाओं को 30 अप्रैल तक चालू कराएं। उन्होंने 20 तक लंबित योजना के पूर्ण नहीं होने की स्थिति में कार्रवाई का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सोमवार तक जिस बीएलडब्ल्यू का रजिस्ट्रेशन व जीओ टैगिंग शतप्रतिशत नहीं हुआ उस पर कार्रवाई होगी।

समीक्षा बैठक के दौरान डीडीसी ने फटका के सुपरवाइजर बीएचओ डॉ. सुनील कुमार पर भी आवास योजना पर लापरवाही बरतने का आरोप लगा। डीडीसी द्वारा उनकी उपस्थिति के संदर्भ में पूछे जाने पर बीडीओ प्रभाकर ओझा ने बताया कि डॉ. सुनील कुमार बिना किसी सूचना के दो दिनों से ऑफिस में नहीं हैं। इस पर तुरंत संज्ञान लेते हुए डीडीसी ने डॉ. सुनील कुमार को शोकॉज करने व वेतन काटने का निर्देश दिया। मौके पर बीडीओ प्रभाकर ओझा, सीओ जोसेफ कंडूलना, जेएसएस रविकुमार सहगल, जेई रावेल होरो, बीडब्ल्यूओ दयानंद दुबे, मनरेगा सहायक अभियंता कौशल कुमार मिश्रा, बीएसओ एसएन प्रसाद, मनीष कुमार, बीपीओ सीमा कच्छप, आवास योजना के प्रखंड समन्वयक पूनम, उषा चौहान, जेई विवेक कुमार, विमल गुड़िया, मनीष कुमार, सरलू मुंडा, प्रदान के सीएफटी सदस्य रवि कुमार आदि उपस्थित थे।

प्रखंड मुख्यालय स्थित किसान भवन में समीक्षा बैठक करते डीडीसी और अन्य पदाधिकारी।

रनिया में डीडीसी ने की कार्य प्रगति की समीक्षा

भास्कर न्यूज | रनिया

मनरेगा भवन में शुक्रवार को डीडीसी चंद्रकिशोर मंडल ने मनरेगा कार्यों व पीएम आवास योजना की समीक्षा की। इसमें जनसेवकों को आवास निर्माण में तेजी लाने, मनरेगा के अंतर्गत किए जाने वाले कार्यों में लंबित योजनाओं को पूर्ण करने व भौतिक रूप से पूर्ण योजनाओं को एमआईएस में बंद करने का निर्देश पंचायत सेवकों, रोजगार सेवकों को दिया। साथ ही मनरेगा कार्यों में निम्न प्रगति वाले पंचायतों के पंचायत सेवक व रोजगार सेवक को कड़ी चेतावनी देते हुए एक सप्ताह के अंदर प्रगति में सुधार करने का आदेश दिया। मौके पर मनरेगा के जिला समन्यक सुधीर मुर्मू, पीएम आवास के कार्यक्रम अधिकारी मनीष कुमार, बीडीओ अनिल कुमार मिंज, प्रमुख सुबोध कंडूलना, 20 सूत्री अध्यक्ष शिवावतार सिंह, कनीय अभियंता राहुल कश्यप, अभिषेक भास्कर, आलोक राम, सहायक अभियंता कौशल कुमार मिश्रा, पंचायत सेवक, जनसेवक, रोजगार सेवक,स्वयंसेवक एवं सभी पंचायतों के मुखिया उपस्थित थे। वहीं, प्रखंड परिसर में जेएसएलपीएस द्वारा 29 आजीविका महिला समूहों के बीच पावर टिलर का वितरण किया गया। वितरण डीडीसी के हाथों कराया गया।

अनियमितता की होगी जांच और दोषियों पर कार्रवाई

भास्कर न्यूज | तोरपा

मरचा पंचायत में वाटर सोलर पंप योजना में हुई भारी अनियमितता पर संज्ञान लेते हुए डीडीसी चंद्रकिशोर मंडल ने कहा कि इसकी जांच के आदेश दिया गया है। मैं स्वयं अपने स्तर पर जांच कराऊंगा। उन्होंने दोषी पाये जाने पर किसी को भी नहीं बक्से जाने की बात कही।

इधरस मरचा के ग्रामीणों का कहना है कि ग्रामसभा में पेयजल की जरूरत को देखते हुए इसका स्थल चयन किया गया था, तो मुखिया व पंचायत सचिव अपने मनमाने ढंग से कैसे स्थल में बदलाव कर दिए तथा ग्रामसभा को इसकी सूचना भी नहीं दी। समीक्षा बैठक के पश्चात डीडीसी ने प्रमुख रोशनी गुड़िया, उपप्रमुख सोफिया सुल्ताना, बीडीओ प्रभाकर ओझा, सीओ जोसेफ कंडूलना, मरचा में हुई अनियमितता की रिर्पोट तैयार करने वाले मनरेगा एई कौशल कुमार मिश्रा, जेई विवेक कुमार के साथ वार्ता कर ग्राउंड रिर्पोट की जानकारी ली। तथा स्वयं जांच का आश्वासन दिया।