Hindi News »Jharkhand »Torpa» पीएम आवास देने के एवज में पंचायत सेवक ने मांगी रकम

पीएम आवास देने के एवज में पंचायत सेवक ने मांगी रकम

प्रधानमंत्री आवास योजना में व्याप्त भ्रष्टाचार का मामला तोरपा प्रखंड में उजागर हुआ है। मामला कमड़ा पंचायत के...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 28, 2018, 07:55 AM IST

प्रधानमंत्री आवास योजना में व्याप्त भ्रष्टाचार का मामला तोरपा प्रखंड में उजागर हुआ है। मामला कमड़ा पंचायत के डिगरी गांव का है। डिगरी निवासी गिल्ली लोहरा ने पंचायत सचिव पर आवास देने के एवज में चार हजार रुपए मांगे जाने की शिकायत की है।

उसने बताया कि आवास योजना के लिए उसने बहुत पहले ही कागजात जमा कर चुका था, उसके साथ कई अन्य लोगों ने भी कागजात जमा किया था। गिल्ली का आरोप है कि कमड़ा के पंचायत सचिव विश्वनाथ सिंह द्वारा आवास पास कराने के एवज में चार हजार रुपए की मांग की गई थी। इसमें उसने दो हजार रुपए दे भी चुका था। योजना की सूची में अन्य लोगों ने अधिक पैसा देकर अपना नाम ऊपर करा लिया। उनका आवास बनना भी शुरू हो गया। गिल्ली ने बताया कि गरीबी व कम पैसा होने की वजह से वह पंचायत सचिव को समय पर बाकी पैसा नहीं दे पाया जिस वजह से उसका नाम लिस्ट में नीचे कर पैसा देने वाले का नाम से आवास जारी कर दिया गया। उसने लिखित रूप से बताया कि पंचायत सचिव विश्वनाथ सिंह ने उसे उधार लेकर नींव खोदने की बात कही थी सो मैंने नए घर के लिए गड्डा तक खोद लिया। उसने बताया कि सचिव से जब भी पैसा की मांग करता वह एक दो दिनों में खाता में ट्रांसफर होने की बात कहता। एक दो बार तो बिना पैसा ट्रांसफर किए उसने खाता चेक करने बैंक भेज दिया। बाद में सचिव ने बताया कि ग्रामीण बैंक में पैसा जाने में दिक्कत होती है। इसलिए नहीं गया। घर के आंगन में खोदे गए गड्डे में बच्चों के गिरने की भी बात कहते हुए उच्च अधिकारियों से जल्द आवास दिलाने की गुहार भी लगाई है। गिल्ली लोहरा ने बताया कि जनसंवाद में शिकायत के बात पंचायत सचिव ने उससे लिए दो हजार रुपए भी गुरुवार को वापस कर दिया। उसका पीएम आवास कभी भी नहीं बनने देने की धमकी भी दी। गिल्ली ने कई अन्य लोगों का भी नाम बताया जिन्होंने आवास के पास कराने के एवज में पंचायत सचिव को पैसे दिए हैं। पंचायत सचिव विश्वनाथ सिंह ने कहा कि गिल्ली का बिरता वाले लिस्ट में नाम है और वह घर दूसरे जगह डिगरी में बनाना चाहता है। इस वजह से परेशानी हुई, जहां तक पैसे की बात है, मैंने किसी से न तो पैसे की मांग की है और न ही लिया हूं। गिल्ली ने मुझ तक पैरवी कराने के लिए बास्की के नारायण सिंह को पैसा दिया था। मेरे द्वारा पैसे लेने की बात बिल्कुल गलत है। बीडीओ प्रभाकर ओझा ने इस मामले में कहा कि गिल्ली लोहरा की शिकायत प्राप्त हुई है। इसे गंभीरता से लिया हूं। उन्होंने कहा कि आरोप जांच में सही पाए जाने पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

तोरपा में पीएम आवास के लिए खोदी गई नींव।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Torpa News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: पीएम आवास देने के एवज में पंचायत सेवक ने मांगी रकम
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Torpa

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×