ये सवाल नॉनसेंस है / इंसान पर कौन-सा रंग नहीं चढ़ता? पेश हैं कुछ चुनिंदा जवाब



nonsense and funny news viral new on social media
X
nonsense and funny news viral new on social media

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 04:41 PM IST

इंसान पर पहले से ही इतनी बेशर्मी चढ़ी है कि इंसानियत और शर्म-हयाई का रंग नहीं चढ़ता। - नवदीप पाठक/आकांक्षा सोनी


ट्राई करके देखना पड़ेगा, क्योंकि मिलावट का जमाना है। - दीपक दैया, बीकानेर 


इंसान पर "रंग शर्बतों का' नहीं चढ़ता। - राजेश्वरी आंजना 


शादीशुदा आदमी पर कोई रंग नहीं चढ़ता क्योंकि पत्नी सारे चढ़ते रंग उतार ही देती है। - गोविंद ठाकरे 


इंसान पर गोरा रंग नहीं चढ़ता है क्योंकि वो गाना है न, "गोरे रंग पे न इतना गुमान कर गोरा रंग दो दिन में ढल जाएगा।' - रेणु सिंह 


इंसान पर शराब का रंग नहीं चढ़ता क्योंकि वह तो सिर्फ दिमाग में चढ़ती है। - मनीष भाटी 


इसका पता तो होली के बाद ही चलेगा। - जीत नवोदय 


इंसान पर कोई भी रंग नहीं चढ़ता क्योंकि वह तो लगातार अपना रंग बदलता रहता है। - हेमंत नोहर 


अगर नेताओं को भी इंसान मानें तो उन पर बेइज्जती का रंग नहीं चढ़ता । - विक्रम कुचीपला 


इंसान पर प्यार का रंग नहीं चढ़ता क्योंकि उसमें कोई रंग नहीं होता। - मुस्कान मंगल/साजिद अली 


इस हफ्ते का नॉनसेंस सवाल : 
अगर आंगन टेढ़ा नहीं होता तो लोग किस तरह से डांस करते?
इस नॉनसेंस सवाल का क्या आपके पास कुछ नॉनसेंस-सा जवाब है? अगर है तो हमसे शेयर कीजिए... मेल करें : Humour@dbcorp.in 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना