इंटरव्यू जरा हटके / गर्मी से गुस्साए फ्रिज ने चिल्लाक कहा, 'मैं फ्रिज हूं, महेंद्र सिंह धोनी नहीं'



special interview with refrigerator in summer season
X
special interview with refrigerator in summer season

Dainik Bhaskar

May 25, 2019, 06:26 PM IST

प्रतीक गौतम. चुनाव हो गए, रिपोर्टर ने शांति पाई। घर पर बैठे-बैठे प्यास लगी तो फ्रिज खोलकर पानी पीना चाहा। पर भड़के हुए फ्रिज ने बर्फ बरसा दी। आप भी पढ़ें फ्रिज से खास बातचीत के कुछ अंश...

 

रिपोर्टर- अरे तुम्हें क्या हुआ?
फ्रिज- परेशान हो गया हूं इस गर्मी में खुलते-बंद होते। कोई और काम नहीं है तुम लोगों के पास?

 

रिपोर्टर- परेशान हम भी हैं भाई, इसीलिए ठंडक पाने तुम्हारे पास आते हैं।
फ्रिज- इतना कूल भी नहीं हूं मैं, फ्रिज हूं धोनी नहीं।

 

रिपोर्टर- पर इतना भड़कने की क्या जरूरत।
फ्रिज- क्या करूं? हद कर दी है तुम इंसानों ने। बिजली है या चली गई, यह देखने के लिए भी फ्रिज खोलकर चेक करते हो।

 

रिपोर्टर- शांत हो जाओ, बताओ तकलीफ क्या है?
फ्रिज- दिनभर हैंडल पर इतने हाथ पड़ते हैं कि घमौरियां हो गई हैं। फ्रीजर से निकालकर बर्फ ही रगड़ दो।

 

रिपोर्टर-(बर्फ़ रगड़ते हुए) तुम्हारे पास कोई आए तो तुम भी खुश रहते हो। ये अचानक गुस्सा किसलिए?
फ्रिज- यार क्या बताऊं। तरबूज के बगल में खरबूज और खरबूज के बगल में जलजीरा रख देते हैं लोग। काम के बोझ से थक गया हूं।

 

रिपोर्टर- फिर भी इतना नहीं भड़कना चाहिए। ठंड रखो, वर्ना कोई डीफ्रॉस्ट कर देगा।
फ्रिज- मानोगे नहीं भाई, अब तो लोगों का फोन भी गर्म हो जाए तो ठंडा करने को फ्रिज में रख देते हैं।

 

रिपोर्टर- लोगों की बुराई छोड़ो, यार तुम ठंडा होने का क्या लोगे?
फ्रिज- एक गिलास मटके का पानी ही पिला दो तो मजा आ जाए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना