नया नियम / फिलीपींस में अफवाह रोकने के लिए गप मारने पर प्रतिबंध, दोषी मिले तो 263 रुपए जुर्माना और 3 घंटे कचरा उठाने की सजा



प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • वजह - स्थानीय लोग गर्मी में इकट्ठा होते हैं और गलत बातों पर चर्चा करते हैं
  • मेयर का दावा- नया नियम लोगों को जिम्मेदार बनाने के साथ शहर की नई पहचान भी विकसित करेगा

Dainik Bhaskar

May 06, 2019, 05:55 PM IST

लाइफस्टाइल डेस्क. फिलीपींस के बिनालोनान शहर में अफवाहों को रोकने के लिए नया नियम लागू किया गया है। शहर में कहीं गप मारने या बेकार की बातें करते मिलने पर व्यक्ति को दोषी करार दिया जाएगा। नए नियम के तहत पहली बार ऐसा करने पर 263 रुपए जुर्माना और 3 घंटे तक सड़क का कचरा उठाने की सजा दी जाएगी। यह नियम स्थानीय स्तर पर लागू किया गया है।

दोबारा नियम तोड़ने पर बढ़ेगा जुर्माना, कड़ी सजा मिलेगी

  1. फिलीपींस की राजधानी मनीला से 200 किलोमीटर दूर स्थित बिनालोनान में स्थानीय अधिकारियों ने गपशप या बेकार की बातें करने को गैरकानूनी बताया। अधिकारियों के मुताबिक, इसका लक्ष्य समुदाय में अफवाहों को रोकना है। ऐसा ही नियम बिनालोनान के पड़ोसी शहर मोरेनो में 2017 में लागू किया गया था। यहां कई स्थानीय लोगों पर 700 रुपए का जुर्माना और सड़कों की जबरन सफाई के लिए दबाव बनाया गया था। लोग काफी परेशान हुए थे लेकिन नियम का सख्ती से पालन भी हुआ था। 

  2. कौन सी बातें गप नहीं, यह साफ नहीं

    बिनालोनान में नियम दोबारा तोड़ने पर जुर्माना बढ़ाने के साथ सजा का समय भी बढ़ाया जाएगा। ऐसे लोगों पर 1300 रुपए जुर्माना और 8 घंटे तक समुदाय की सेवा करनी होगी। हालांकि नियम में यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि किन बातों को गप या बेकार की बातें करार दिया जाएगा। 

  3. शहर की गुणवत्ता में इजाफा होगा

    इसके मामलों में कार्रवाई की शुरुआत गर्मियों से की जा रही है। अधिकारियों का दावा है कि इस मौसम में स्थानीय लोग छांव में इकट्ठा होते हैं। गर्मी का मौसम लोगों को बेकार की बातों पर चर्चा करने के लिए उकसाता है, जैसे कौन अपने पति या पत्नी को धोखा दे रहा है या कौन धोखा देकर कर्ज चुका रहा है। मेयर रेमन गुइको का दावा है इस नियम के कारण लोग जीवन में बेहतर चीजें करने के लिए प्रेरित होंगे। गपशप पर प्रतिबंध लगाने से शहर की गुणवत्ता में इजाफा होगा।

  4. समुदायों को झूठी निंदा करने वालों से बचाना भी लक्ष्य

    44 वर्षीय रेमन गुइको ने बताया कि नया नियम भावनाओं को व्यक्त करने की स्वतंत्रता पर रोक नहीं लगाता। इस नियम को लागू करने का लक्ष्य समुदायों को झूठी निंदा करने वाले लोगों से बचाना है ताकि शहर अच्छा और सुरक्षित बन सके। नया नियम लोगों को उनकी जिम्मेदारी के प्रति आगाह करता है। हम चाहते हैं कि बाहर के लोग यहां के निवासियों को एक बेहतर इंसान मानें।  

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना