बागवानी / इस मानसून घर में लगाएं सब्जियों की बगिया, आसानी से उगते हैं टमाटर, धनिया और पुदीना के पौधे

how to plant coriander tomato mint and soinach plant in Monson
X
how to plant coriander tomato mint and soinach plant in Monson

Jul 11, 2019, 06:48 PM IST

लाइफस्टाइल डेस्क. किचन गार्डन की शुरुआत करते समय एकदम से ऐसी सब्जियां उगाने की कोशिश न करें, जिनके बारे में जानकारी ही न हो। शुरुआत में पुदीना, हरा धनिया, लहसुन, हरी मिर्च, अलग-अलग प्रकार के साग जैसे पालक, चौलाई, मेथी आदि के अलावा कढ़ी पत्ता, तुलसी, हरी मिर्च आदि को अपने बगीचे का हिस्सा बनाएं। धीरे-धीरे सब्जियों की वैरायटी बढ़ाएं। इससे किचन गार्डन से खाने भर की सब्जियां आराम से निकल आएंगी। बागवानी विशेषज्ञ आशीष कुमार से जानिए किचन गार्डन में कौन सी सब्जियों को उगाया जाए...

छोटी सी जगह में उगाए जा सकते हैं ये पौधे

इसे किचन गार्डन में सालभर लगा सकते हैं। वाटिका में बीज डालकर टमाटर उगाए जा सकते हैं। टमाटर का पौधा ज़्यादा ठंड और अधिक नमी को बर्दाश्त नहीं कर पाता है। टमाटर जब पूरी तरह लाल हो जाएं तभी इन्हें तोड़ना चाहिए। इन्हें किसी भी गमले या फिर कंटेनर में उगा सकते हैं। इनके लिए अधिक जगह की आवश्यकता नहीं होती।

 

''

 

धनिए के कच्चे पत्तों में विटामिन ए, सी और के मौजूद होते हैं, जो सेहत के लिए फ़ायदेमंद हैं। धनिया न तो बहुत अधिक ठंड सहन कर सकता है, न ही बहुत अधिक गर्मी। धनिए को किचन गार्डन में बीज के माध्यम से मई और जून के आसपास व वसंत ऋतु के अंत में डाल सकते हैं। हरा धनिया गर्मी में बेहतर बढ़त लेता है।

 

''

 

यह बहुत ही स्वास्थ्यवर्धक सब्ज़ी मानी जाती है। इसके पौधों को उगने में 6 से 8 हफ़्ते आराम से लग जाते हैं। इसे ज़्यादा धूप की ज़रूरत नहीं होती। पालक की केवल पत्तियों को तोड़ सकते हैं या फिर पूरे पौधों को जड़ सहित निकाल सकते हैं। पौधों को उस पर फूल लगने से पहले ही काट लेना चाहिए। यह बलुई, दोमट, बलुई दोमट, सादमय दोमट आदि भूमियों पर अच्छी तरह उग जाती है। किचन गार्डन में पालक के बीज को वर्षा के बाद तथा नवंबर तक मिट्टी में कभी भी डाल सकते हैं।

 

''

 

यह बारहमासी पौधा है। पुदीना सेहत के लिए तो अच्छा होता ही है, ये गर्मी के मौसम में कई बीमारियों से भी बचाता है। पुदीना कलमों तथा कलम कटिंग के माध्यम से मार्च/अक्टूबर दोनों माह से लगा सकते हैं। ये गमले में आसानी से लग जाता है।

 

''

 

  • ग्रीष्म ऋतु में चुकंदर, गाजर, फ्रेंच बीन्स, खीरा, टमाटर, पालक, आलू और मटर लगा सकते हैं। 
  • वसंत ऋतु में छोटी-बड़ी सेम, फूलगोभी, पत्तागोभी, गाजर, गांठ गोभी, हरी प्याज़, पालक, मूली उगा सकते हैं। 
  • शरद ऋतु में गांठ गोभी, पत्तागोभी, गाजर, फूलगोभी, पालक, कद्दू, लौकी, टमाटर लगा सकते हैं। 
  • शीत ऋतु में फूलगोभी, बंदगोभी हरी, लाल तथा सफेद बंदगोभी, लीक (प्याज़ जैसी गांठदार सब्ज़ी), अजवाइन, गाजर, शलजम को उगान चाहिए। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना