--Advertisement--

370 बरस बूढ़े लाल किले की 10 कहानियां, कभी कोहिनूर की चमक से रोशन हुआ, कभी खून से रंगी गई इसकी दीवारें

लालकिला मुगल बादशाह शाहजहां की नई राजधानी, शाहजहांनाबाद का महल था। यह दिल्ली शहर की सातवीं मुस्लिम नगरी थी।

मुगल काल में इसे किला-ए-मुबारक के नाम से जाना जाता था। लालकिले में कई प्रमुख इमारते हैं जिनमें दीवान-ए-आम, दीवान-ए-खास के अलावा मोती मस्जिद, हीरा महल, रंग महल, खास महल और हयात बख्श बाग प्रमुख हैं। 
Danik Bhaskar | Sep 03, 2018, 08:01 PM IST