मुंबई / 40 हजार वर्गफुट में कार्डबोर्ड से बनाया इकोफ्रेंडली कैफे, फर्नीचर से लेकर कटलरी तक सबकुछ है इकोफ्रेंडली

X

दैनिक भास्कर

Oct 01, 2019, 07:56 PM IST

लाइफस्टाइल डेस्क. स्वच्छ पर्यावरण को लेकर देश में जागरुकता से काम किया जा रहा है। कोई पौधे लगा रहा है, तो कोई प्लास्टिक का विकल्प उपयोग करने लगा है। मुंबई का एक कैफे ऐसा है जो इकोफ्रेंडली है। जानें इसके बारे में...

बायोडिग्रेडेबल प्रोडक्ट से बनाया गया कैफे

पर्यावरण बचाने की दिशा में इंजीनियर्स व आर्किटेक्ट ने अपनी सोच को एक नया कदम दिया है। इसमें उन्होंने मुंबई के बांद्रा कुर्ला काम्पलेक्स में एक कैफे को पूरी तरह से बायोडिग्रेडेबल प्रोडक्ट यानी कार्डबोर्ड से बनाया है। इसे इस तरह से डिजाइन किया गया है कि यह पर्यावरण के लिए पूरी तरह से सुरक्षित रहे। नाम से ही पता लग रहा है कि इस कैफे में सबकुछ कार्डबोर्ड का बना हुआ है। डिजाइनर्स कहते हैं कि लोगों ने आज तक पत्थर व ईंट के बने होटल देखे हैं, लेकिन कार्डबोर्ड का बना कैफे पहली बार देखा है। इसमें लैंप शेड्स, कुर्सियां सब कुछ कार्डबोर्ड का बना हुआ है। इसका रंग हल्का व बहुत ही बेहरतरीन रखा गया है कि ताकि हर कोई इसकी ओर आकर्षित हो सके। राइटर और शेफ अमित धनानी इस कैफे के मालिक हैं। 

कार्डबोर्ड से बने होने के कारण बारिश के मौसम को ध्यान में रखते हुए इसे खासतौर पर तैयार किया गया है, ताकि बारिश का इस पर कोई असर न हो। वहीं ईंट व पत्थर से बने रेस्त्रां में आग का जितना डर होता है, उतना ही इसमें है। इसकी सफाई वैक्स लेमिनेशन से की जाती है। 100 प्रतिशत रिसाइकल व बायोडिग्रेडेबल होने के कारण यह पर्यावरण के लिहाज से पूरी तरह से सुरक्षित है। इस कैफे के बारे में काफी आउट-ऑफ-द-बॉक्स सोचा गया है।

कैफे की डिजाइनिंग का काम आर्किटेक्ट नूरु करीम ने किया है। ये कैफे 40,000 वर्गफुट पर फैला है। कैफे इकोफ्रेंडली और रिसाइकिल की जाने वाली चीजों को इकट्ठा करके बनाया गया है। इसके अलावा यहां के खाने की खासियत ये है कि यहां स्पैनिश कुजीन को साउथ इंडियन फॉर्मेट में बनाया जाता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना