नई सुविधा / मुंबई एयरपोर्ट देश का पहला ऐसा एयरपोर्ट जहां यात्री पहले से खाने के लिए ऑर्डर दे सकेंगे



mumbai airport passenger can prebook meal for the journey
X
mumbai airport passenger can prebook meal for the journey

  • जून से शुरू होगी यह सर्विस, बार-बार हवाई यात्रा करने वाले 90% लोग तड़के या देर रात की उड़ान से सफर करते हैं 

Dainik Bhaskar

May 10, 2019, 11:33 AM IST

लाइफस्टाइल डेस्क. मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट (सीएसएमआईए) पर हवाई यात्रियों को खाने के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। वे यहां पहुंचने से पहले से अपनी पसंद का खाना ऑर्डर कर सकेंगे। एयरपोर्ट पहुंचने पर उन्हें इसे डिलीवर कर दिया जाएगा। चाहें तो खाना रास्ते से भी कलेक्ट कर सकेंगे। एयरपोर्ट यात्रियों के लिए यह सर्विस आगामी जून से शुरू करने जा रहा है। 
 

ग्रैबएनगो मोबाइल एप से कर सकेंगे खाना ऑर्डर

  1. एयरपोर्ट प्रवक्ता ने बताया यह देश का पहला एयरपोर्ट होगा जो इस सर्विस के लिए टेक्नोलॉजी और मोबाइल एप की मदद लेगा। ग्रैबएनगो नामक मोबाइल एप पर यात्री अपनी पसंद का खाना एडवांस में ऑर्डर कर सकेंगे। एप से बिल मिल जाएगा। एप से ही इसका भुगतान कर सकेंगे। एयरपोर्ट के टर्मिनल 1 और टर्मिनल 2 पर इस सुविधा के लिए आउटलेट लगाए जाएंगे। इसके अलावा यात्री यहां मोबाइल एप डाउनलोड किए बिना भी खाना ऑर्डर कर सकेंगे। इसके लिए उन्हें मोबाइल फोन से आउटलेट में मौजूद क्यूआरकोड स्कैन करना होगा। 
     

  2. बड़े फूडब्रांड भी लिस्ट में होंगे शामिल

    एक अध्ययन के मुताबिक बार-बार हवाई यात्रा करने वाले 90% लोग अक्सर तड़के या देर रात की उड़ान से सफर करते हैं। दिन में उनके काम का व्यस्त शेड्यूल होता है। इस कारण उनके खाने में बहुत लंबा अंतर आ जाता है। उनकी इसी परेशानी को दूर करने के लिए सीएसएमआईए और ग्रैबएनगो मिलकर ऑर्डर अहेड नामक सर्विस शुरू करने जा रहे हैं। इसके तहत यात्रियों को पसंद का खाना उनके बोर्डिंग गेट पर ही मिल जाएगा। इस पहल के लिए एयरपोर्ट ने कुछ फूड ब्रांड से तालमेल किया है जो पहले ही एयरपोर्ट के भीतर मौजूद हैं। 

  3. ताजा और गर्म खाने देने का दावा

    प्रवक्ता ने बताया, समय कुछ भी हो यात्रियों को ताजा और गर्म खाना मिले, इसके लिए फूड स्टोर्स पेटेंटेड जीटी (जस्ट इन टाइम ऑर्डर) के जरिए ऑर्डर प्राप्त करेंगे। छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट दिल्ली एयरपोर्ट के पास देश का दूसरा सबसे व्यस्त एयरपोर्ट है। यह सालाना 4 करोड़ यात्रियों की आवाजाही के लिए सक्षम है। यात्री एयरपोर्ट पर या रास्ते में खाने की डिलीवरी ले सकते हैं 

  4. फुल सर्विस एयरलाइंस भी खाने पर खर्च घटा रही

    बजट एयरलाइंस अपनी उड़ानों में खाना नहीं देती हैं। वहीं फुल सर्विस देने वाली एयरलाइन यात्रियों को उड़ानों में खाना देती हैं। लेकिन इन पर लागत कम करने का दबाव बढ़ा है। इसी के चलते एयर इंडिया ने पिछले साल से अपनी घरेलू उड़ानों में मांसाहारी भोजन बंद कर दिया है। वह 0-60 और 61-90 मिनट की उड़ानों में इकोनॉमी क्लास में गर्म भोजन नहीं देती है। 
     

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना