अजब-गजब /1300 वर्षों से यहां के लोगों ने जमीन पर नहीं रखा कदम, समुद्र पर बसाई बस्ती

Dainik Bhaskar

Oct 05, 2018, 01:07 PM IST


traditional floating homes on the sea Fujian in china
X
traditional floating homes on the sea Fujian in china

लाइफस्टाइल डेस्क. दुनिया में लोग अलग-अलग जगहों पर रहते हैं, कुछ गांव में रहते हैं तो कुछ शहर में। कुछ पहाड़ पर रहते हैं तो कुछ नदी के किनारे। लेकिन, ऐसे लोग भी हैं जो वर्षों से समुद्र में रह रहे हैं। समुद्र पर तैरती हुई यह बस्ती चीन में है। यहां टांका जनजाति के लोग रहते हैं। जो करीब 1300 सालों से फुजियान राज्य के दक्षिण पूर्व की निंगडे सिटी के पास समुद्र में रह रहे हैं।  

  • समुद्री मछुआरों का है इलाका

    समुद्री मछुआरों का है इलाका

    • टांका नाम की बस्ती पूर तरह पानी के पर बसी है जहां 7000 लोग रहते है। ये बस्ती समुद्री मछुआारों की है जो 'टांका' कहलाते हैं। 
    • ये एक जनजाति है। दरअसल चीन में कई सदियों पहले टांका कम्यूनिटी के लोग वहां के शासकों के उत्पीड़न से इतने नाराज हुए कि उन्होंने समुद्र पर ही रहना तय कर लिया। 
    • ऐसा कहा जाता है कि करीब 700 ईसवीं से लेकर आज तक यह लोग न तो धरती पर रहने को तैयार हुए हैं और न ही आधुनिक जीवन अपनाया है। 
    • इन विचित्र घरों की एक पूरी बस्ती है। समुद्री मछुआरों की यह बस्ती फुजियान राज्य के दक्षिण पूर्व की निंगडे सिटी के पास समुद्र में तैर रही है। 

  • सारा जीवन बोट पर 

    सारा जीवन बोट पर 

    • चीन में 700 ईस्वी में तांग राजवंश का शासन था। उस समय टांका जनजाति समूह के लोग युद्ध से बचने के लिए समुद्र में अपनी नावों में रहने लगे थे। तभी से इन्हें जिप्सीज ऑन द सी कहा जाने लगा और वह कभी-कभार ही जमीन पर आते हैं। 
    • टांका जनजाति के लोगों का पूरा जीवन पानी के घरों और मछलियों के शिकार में ही बीत जाता है। इन्होंने न केवल फ्लोटिंग घर बल्कि बड़े-बड़े प्लेटफार्म भी लकड़ी से तैयार किए हैं।
    • चीन में कम्यूनिस्ट शासन की स्थापना होने तक ये लोग न तो किनारे पर आते थे और न ही समुद्री किनारे बसे लोगों के साथ विवाह के रिश्ते बनाते थे। वे अपनी बोट्स पर ही शादियां भी करते हैं।

COMMENT