रिलेशनशिप / खुद पर ध्यान दें और भावनात्मक रूप से अपने पार्टनर पर निर्भर ना हों

Focus on yourself and don't emotionally depend on your partner
X
Focus on yourself and don't emotionally depend on your partner

Dainik Bhaskar

Nov 24, 2019, 05:44 PM IST
लाइफस्टाइल डेस्क. हमारी रिलेशनशिप एक्सपर्ट डॉ. निशा खन्ना पाठकों की समस्याओं या सवालों का जवाब भी देंगी। सवाल पूछने वाले पाठकों के नाम गोपनीय रखे जाएंगे।

हमारी शादी को पांच साल हो गए हैं और हमारी एक बेटी भी है। लेकिन हमारे बीच आज भी आपसी सामंजस्य नहीं है, जिसके कारण आए दिन घर में झगड़े होते रहते हैं। इसका असर बेटी के जीवन पर भी पड़ रहा है। मुझे क्या करना चाहिए?

  1. आप दोनों के बीच सामंजस्य किन कारणों से नहीं है, पहले तो इसकी असली वजहों को जानें। क्या आप दोनों अपने आप से खुश हैं? क्या इस रिश्ते से खुश हैं? पहले दोनों को अपनी-अपनी खुशियों और व्यक्तिगत जीवन पर ध्यान देना चाहिए। कई बार दूसरों को खुश करने के फेर में हम खुद खुश नहीं रहते। जब खुद खुश रहेंगे, तभी अपने पार्टनर को खुश रख पाएंगे। आप कुछ दिनों तक एक काम करें। जब भी पार्टनर को गुस्सा आए, आप थोड़ी देर शांत करें। दिन में एक बार उनकी प्रशंसा करें। फिर भी चीज़ें नहीं सुधरतीं, तो किसी प्रोफेशनल की मदद लें। ध्यान रखें, आपकी एक बेटी भी है। तो आप न तो अपने रिश्ते को छोड़ सकते हैं और न ही यूं ही चलने दे सकते हैं।

  2. मेरे पति मुझे नापसंद करने लगे हैं। वे किसी और लड़की के साथ संपर्क में हैं। रिश्ता बचाने के लिए मैं क्या करूं?

    पिछले कुछ समय में अपनी जिंदगी में आए हुए बदलावों को देखें। क्या पति के आपसे दूर होने का इसमें कोई कारण समझ आ रहा है? पति से सीधे तौर पर पूछें कि उनके मन में क्या है और इस
    दूरी का असल कारण क्या है, यह भी उनसे जानें। उनसे ईमानदारी से जवाब देने के लिए कहें। कई बार कुछ छोटे कारण जैसे मान लीजिए कि आपके पति ने आपको वजन कम करने को कहा हो, लेकिन आपने ध्यान ही नहीं दिया हो। ऐसे में पति किसी और महिला के प्रति शारीरिक रूप से आकर्षित हो गए हों। बहरहाल बात करके देखिए। अगर परिस्थतियां नियंत्रण से बाहर हैं, तो किसी प्रोफेशनल काउंसलर की मदद लें।

  3. मैं अजमेर में रहता हूं और सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहा हूं।

    मैं तीन साल से एक रिलेशनशिप में था। मेरी पार्टनर की कुछ महीनों पहले दिल्ली में नौकरी लगी, तब से उसने बात करनी बंद कर दी है। मैं भावनात्मक रूप से कमजोर महसूस कर रहा हूं। मेरा आपसे सवाल है कि क्या आपका रिश्ता परस्पर था यानी दोनों तरफ से था? आप दोनों ही उसमें गंभीर थे? पढ़ाई करने और नौकरी में फ़र्क़ है। आप अभी भी पढ़ रहे हैं, जबकि आपकी पार्टनर अब
    जॉब में हैं। नौकरी के बाद प्राथमिकताएं बदलती ही हैं। हो सकता है कि दिल्ली में वह खुद को एडजस्ट करने में लगी हुई हों। फोन पर बिल्कुल बात ना करने और बातचीत में पहले जितना समय ना देने में फ़र्क़ है। इस फ़र्क़ को महसूस करिए। इसके अलावा आप अपने ऊपर ध्यान दें और भावनात्मक रूप से अपने पार्टनर पर निर्भर ना हों। 

  4. हमारे बीच झगड़े की वजह फोन है। कुछ दिन पहले रात में मेरी पत्नी ने मेरे वाट्सएप के मैसेज पढ़े। मेरे फोन में एक दोस्त के मैसेज पर पत्नी ने रिप्लाई कर दिया कि मैं सो गया हूं। उसके बाद उस दोस्त ने कुछ आपत्तिजनक मैसेज कर दिए। मेरी पत्नी ने पुराने सारे मैसेज भी पढ़े। वह अब अपने लिए नए स्मार्टफोन की मांग कर रही है। अब मैं असमंजस में हूं कि उसे नया फोन दूं या नहीं? 

    रिश्ते के बीच विश्वास होना बहुत जरूरी है। आप किसी दूसरे के व्यवहार और भावनाओं को नियंत्रित या बदल नहीं सकते। अगर वह कुछ गलत ही करना चाहती हैं, तो वह कहीं और से भी कर सकती हैं। अगर पत्नी ने आपके दोस्त को सिर्फ यही मैसेज किया आप सो रहे हैं और किसी अन्य तरह का संवाद शुरू नहीं किया, तो शक करने का सवाल ही नहीं होता। अगर हो सके तो उन्हें नया फोन खरीदकर जरूर दें। अगर आप किसी चीज के लिए मना करेंगे, तो उसके प्रति व्यक्ति की उत्सुकता और बढ़ती जाती है। हां, फोन पर कब क्या किसे मैसेज करने हैं, इस बारे में भी उन्हें विश्वास में लेकर बात करें।

     

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना