फ्रेंडशिप टिप्स / आपकी थोड़ी सी समझदारी टूटने से बचा सकती है ये रिश्ता, यह हैं लंबी दोस्ती के कारगर मंत्र

Friendship Tips: A little wisdom can save you from cracking this relationship,  try this effective mantra for long friendship
X
Friendship Tips: A little wisdom can save you from cracking this relationship,  try this effective mantra for long friendship

Dainik Bhaskar

Jan 20, 2020, 11:19 AM IST

लाइफस्टाइल डेस्क. रिश्ता कोई भी हो अक्सर कुछ गलतफहमियां उसमें दरार ला देती हैं। पर इसका मतलब यह नहीं होता कि दोस्ती टूट गई। जैसे ही हम अपनी गलती का एहसास करते हुए माफी मांग लेते हैं, वह धागा जिसे हम टूटता महसूस कर रहे हैं और मजबूत हो उठता है। यहां जानिए ऐसी कुछ बातें जिन्हें अपनी आदत में शुमार कर आप अपनी दोस्ती को मजबूत कर सकते हैं।

इन बातों का रखें ध्यान

  1. जब दो लड़कियां हों दोस्त 

    लड़कियों की दोस्ती में सबसे ज्यादा नुकसान ईर्ष्या से होता है। लड़कियों के बीच कॉम्पटिशन भी होता है। कभी आपको फील हो कि आपकी सहेली आपकी किसी बात से ईर्ष्या महसूस कर रही है तो आपको उसकेसामने उन बातों को करने से बचना चाहिए। ईर्ष्या से सिर्फहेल्दी कम्यूनिकेशन ही बचा सकता है। यह तो सभी जानते हैं लड़कियों मेंअटेंशन की चाह बहुत होती है, ऐसे में जब आपकी सहेली आपसे नाराज हो तो आप उसे ज्यादा अटेंशन दें। सहेली से हर महत्वपूर्ण बात शेयर करें, इससे दोस्ती मजबूत होती है। परस्पर विश्वास बढ़ता है।

  2. जब लड़का-लड़की हों दोस्त

    आमतौर पर एक लड़का-लड़की की दोस्ती बहुत मजबूत होती है, यह तभी टूटती है, जब इनमें से किसी के मन में फीलिंग डेवलप हो जाती है। इससे बचने के लिए साफ बात करें, ताकि दोस्ती बची रह सके। इस तरह के रिलेशन में शक बहुत बड़ी भूमिका निभाता है। यदि आपने शक किया तो समझिए आपकी दोस्ती में दिक्कत आना शुरू हो जाएगी। हेल्दी रिलेशन के लिए आप जितना ज्यादा कम्यूनिकेशन रखेंगे उतने ही फायदे में रहेंगे। बातचीत हो जाने से आपकी सारी समस्या खत्म होती जाएगी। ऐसे समय परस्पर समझदारी से काम लेने की जरूरत होती है।

  3. जब दो लड़के हों दोस्त

    दो लड़कों की दोस्ती के बीच दरार आने की सबसे बड़ी वजह है ईगो का टकराव। कई बार किसी बात को लेकर दो करीबी लोगों के विचार बिल्कुल अलग-अलग होते हैं। ऐसे में एक स्थान पर आकर दोनों में मनमुटाव होने की आशंका बनी रहती है। जैसे दो दोस्तों में एक ने तरक्की कर ली तो उसे इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि किसी भी हाल में दूसरे दोस्त को नीचा न दिखाएं। कई बार एक दूसरे पर इंप्रेशन जमाने केचक्कर में भी लड़के अपने साथी को नाराज कर बैठते हैं और बाद में पछताते हैं।

  4. संवाद से सुलझाएं विवाद

    रिलेशनशिप एक्सपर्ट केअनुसार जब दो लोगों की दोस्ती खराब होती है तो कम्यूनिकेशन बढ़ाना चाहिए। संवाद ऐसा होना चाहिए कि जो दोस्त नाराज है, उसकी हर बात बिना किसी शर्त के स्वीकार की जाए। अगर आपको अपनी दोस्ती बचानी है तो आपको अपने दोस्त के गुस्से को ठंडा होने तक का इंतजार करना चाहिए। हो सकता है कि आपको लग रहा हो कि आप सही हैं, पर अभी यह सही समय नहीं है अपनी बात को मनवाने का तो इंतजार करें। इस तकनीक से ज्यादातर लोगों को राहत मिलती है।

  5. ये बातें भी आएंगी काम

    • बड़ी-से-बड़ी गलती करने के बाद भी जब आप अपने मित्र से साफ दिल से माफी मांगते हैं तो वह आपको माफ कर देता है। हमें इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि अब जब माफी मांगने से हमारा दोस्त हमें वापस मिल रहा है तो दोबारा वह गलती किसी भी कीमत पर न दोहराएं। 
    • क्लियर कम्यूनिकेशन रखें। हर बात को साफ तरीके से करें। जैसे कोई बात पसंद नहीं आ रही है तो उससे नाराज होकर चुप रहने के बजाय उसे बताएं कि यह ठीक नहीं है। उसकी कही हुई कोई बात बुरी लग जाए तो माफी मांग लें।      
    • कई बार हम दोस्ती मेंकुछ गलतियां कर बैठते हैं। हम दोस्तों को समझने में गलती कर देते हैं। ऐसा शायद इसलिए होता है, क्योंकि दोस्ती में विश्वास डगमगा जाता है। खुद को बेहतर और अच्छा दिखाने, और दोस्त को नीचा दिखाने से दोस्ती टूट जाती है या रिश्ते दरक सकते हैं।      
    • घमंड से किसी भी रिश्ते की बुनियाद हिल सकती है। दोस्ती में अगर एक दूसरे के प्रति प्रतियोगिता की भावना हो, तो वह भी खतरनाक है। वे बातें जो उन्होंने केवल आपसे शेयर की हैं, उन्हें इधर-उधर न फैलाएं तो अच्छा होगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना