--Advertisement--

बिहेवियर / आक्रामक बच्चों को विनम्र बनाने के लिए पेरेंट्स खुद भी बदलें और आदर्श बनें



Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 05:48 PM IST

 

लाइफस्टाइल डेस्क. दुनिया में हिंसा और दुष्टता का असर बच्चों पर दिखाई दे रहा है। छोटी-छोटी बातों पर जिद करना और गुस्सा दिखाना उनके बिहेवियर में शामिल हो रहा है। ऐसे में पैरेंट्स दुविधा में हैं कि वे बच्चों को विनम्र कैसे बनाएं। पेरेंटिंग एक्सपर्ट डॉ. विनय मिश्रा बता रहे हैं 04 टिप्स जो बच्चे को विनम्र बनाने में मदद करेंगी। 

04 टिप्स : बच्चों को बनाएगी विनम्र

  1. अपने विचार बताएं 

    अपने बच्चों के लिए सबसे महत्वपूर्ण जो बात आप कर सकते हैं, वह यह कि उन्हें इस बात का एहसास दिलाएं कि आपके लिए उनकी दयालुता और जिम्मेदारी भरा व्यवहार करना कितना जरूरी है। जब आप बच्चे को दुष्टता का व्यवहार करते पाएं, तो उसे उसी समय यह बताना होगा कि ऐसा व्यवहार स्वीकार्य नहीं होगा।

  2. बच्चों के आदर्श बनें 

    शब्दों से ज्यादा आचरण असर करता है। यदि आप स्वयं अपने आचरण में लगातार दूसरों की परवाह करने वाले और करुणाशील हैं, तो आपके बच्चों में भी ये गुण आने की संभावना बहुत अधिक है। बच्चे व्यवहार सीखने के लिए अभिभावकों और अन्य बड़ों को देखते हैं, समझते हैं और उनके समान व्यवहार करते हैं।

  3. कार्यों की सराहना करें 

    जिस तरह आप बच्चों को यह जताना चाहते हैं कि उनके लापरवाही या क्रूरता भरे कार्य आपको अच्छे नहीं लगते, उसी तरह उन्हें यह जताना जरूरी है कि आप उनके अच्छे व्यवहार के प्रशंसक हैं। उनके दयालुता के कार्यों के लिए उन्हें पुरस्कार दें। उदाहरण: वे किसी की सहायता करें तो उन्हें बताएं कि हमें तुम पर गर्व है। 

  4. नए लोगों से मिलाप

    समाजसेवा से बच्चे और विविध पृष्ठभूमि, धर्म, योग्यता, आयु, आर्थिक स्तर और शिक्षा के लोगों के संपर्क में आते हैं और दुनिया की वास्तविकता समझते हैं। समाजसेवा ग्रीष्मकालीन अवकाश के दौरान आराम की जा सकती है। इसमें पाएंगे कि विभिन्न व्यक्तित्व के लोग एक लक्ष्य को लेकर एक-दूसरे से जुड़े होते हैं।