हैप्पी ब्रेकअप / रिश्ता टूट रहा है तो राजी-खुशी करें ब्रेकअप ताकि बरकरार रहे दोस्ती

You can also be happy, separate from them
X
You can also be happy, separate from them

Dainik Bhaskar

Dec 23, 2019, 01:58 PM IST
लाइफस्टाइल डेस्क. यह बोलना आसान है कि राजी-खुशी ब्रेकअप हो सकता है, लेकिन ऐसा करना है मुश्किल। हालांकि कुछ सुझाव हैं जिन पर अमल करके हम अलग हो रहे साथी को खुशी-खुशी विदा कर सकते हैं। इतना ही नहीं हम बाद में उसके साथ रिलेशन में न रहें, लेकिन उसके अच्छे दोस्त तो बने रह सकते हैं।

क्या करें: स्वीकारें कि यह अंत है

  1. आजकल महिलाएं और पुरुष देर सेशादी कर रहे हैं और वे खुद ही अपनी शादी की तैयारी भी करते हैं। हनीमून पीरियड खत्म होने के बाद आपसी मतभेद और कड़वाहट रिश्तेमें प्रवेश करनेलगते हैं और वे इसे सुलझाने में लग जाते हैं। अतः बातचीत करतेरहना और ईमानदारी बरतना बहुत जरूरी है।” जरूरी नहीं कि आपने जैसी कल्पना की हो आपका रिश्ता उसी तरह से आगे बढ़े, इस बात को स्वीकारें।

  2. क्या न करें: बातचीत से न कतराएं

    रिश्ते को खत्म करने के लिए टेक्स्ट मैसेज बिल्कुल भी सही तरीका नहीं है। इस तरह के मैसेज में आप शब्द तो लिख देते हैं, लेकिन उसमें अपनी भावनाएं नहीं दिखा पाते। इस स्थिति से निपटने का बेहतर तरीका यह होता कि दोनों आपस में पूरी ईमानदारी से बात करें, जिसमें दूसरे पार्टनर को सवाल पूछने की इजाजत हो।

  3. क्या करें: सही ढंग से रिश्ता तोड़ें

    अपने ब्रेकअप को अच्छा बनाए रखने की कोशिश न करें। जब आपको मालूम हो कि आप कभी उनके पास वापस नहीं जाने वाले तो मीठी-मीठी बातें कर उन्हें लटकाए रखने का कोई मतलब नहीं है। सीधे-स्पष्ट शब्दों में कहें कि आप दोनों को क्यों अलग होना चाहिए। जितनी आप खुलकर बात करेंगे, आगे आप लोगों के लिए उतना ही आसान होगा। कई बार गलतफहमियां भी रिश्ते को तार-तार कर देती हैं। देर होने पर जब पता चलता है तो सिवाय पछताने के कुछ और हाथ नहीं आता। इस बात को जितना जल्दी समझे, अच्छा होगा। 

  4. क्या न करें: अपने एक्स की बुराई

    अपने पूर्व प्रेमी या पति से अलग होने के बाद हो सकता है कि कॉमन फ्रेंड्स के बीच आपको उनकी बुराई करने का मन करे। लेकिन ऐसा करने से बचें, क्योंकि हो सकता है कि वे आपके बजाय आपके पूर्व प्रेमी या पति के प्रति वफादार हों। इस तरह की बातें करना हो सकता है कि आपकी गरीमा को खराब करने का काम करे। यह बोलना आसान है कि राजी-खुशी ब्रेकअप हो सकता है, लेकिन ऐसा करना है मुश्किल। हालांकि कुछ सुझाव हैं जिन पर अमल करके हम अलग हो रहे साथी को खुशी-खुशी विदा कर सकते हैं। इतना ही नहीं हम बाद में उसके साथ रिलेशन में न रहें, लेकिन उसके अच्छे दोस्त तो बने रह सकते हैं।

  5. क्या कहता है सर्वे: दिल टूटना, दर्द और कड़वाहट

    हर ब्रेकअप स्टोरी का हिस्सा होते हैं। ब्रिटिश ऑर्गेनाइजेशन यूगव द्वारा किए गए एक पोल के नतीजे बताते हैं कि 58 प्रतिशत अलग हुए पार्टनर्स ‘खुशी-खुशी अलग होने’ की संकल्पना में विश्वास नहीं करते, पर रिलेशनशिप एक्स्पर्ट्स कहते हैं, कि यदि आप कुछ बुनियादी नियमों का अनुसरण करें तो यह संभव है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना