• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Araria
  • Certificate Of Proficiency Given To 250 Skilled Trainees By Organizing Convocation In Jan Shikshan Sansthan

सम्मान समारोह:जनशिक्षण संस्थान में दीक्षांत समारोह आयोजित कर 250 दक्ष प्रशिक्षुओं को दिया दक्षता का प्रमाण पत्र

पलासी11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दीक्षांत समारोह में उपस्थित प्रशिक्षु। - Dainik Bhaskar
दीक्षांत समारोह में उपस्थित प्रशिक्षु।
  • 2022 में कुल 1800 लाभार्थियों को लाभान्वित करने की योजना का होगा सृजन:निदेशक

विश्वकर्मा पुजा के अवसर पर जनशिक्षण संस्थान अररिया के द्वारा बेनी उपकेंद्र में दीक्षांत समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में सैकड़ों की संख्या में लाभार्थियों ने भाग लिया। संस्थान के निदेशक राजेश कुमार ने लाभार्थीयों को संबोधित करते हुए कहा कि आप लोग अपना कौशल इतना विकसित करें कि आप दूसरों को नौकरी देने वाले बनें न कि नौकरी मांगने वाले। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी का समाधान कौशल है। जितना हमारा कौशल बढ़ेगा बेरोजगारी उतनी ही कम होगी। कहा कि आज भगवान विश्वकर्मा का जयंती है जिसे निर्माण व सृजन का देवता माना जाता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 लागू की जो शिक्षा जगत के लिए क्रांतिकारी कदम है। वर्तमान की मांग के अनुसार कृषि, विज्ञान, कला, कौशल, संस्कृति एवं सामाजिक क्षेत्रों में युवा पीढ़ी के सपने कौशल शिक्षा के माध्यम से ही साकार हो रहे हैं। इसलिए रोजगार प्राप्त करने के लिए कौशल दक्षता जरूरी है। कहा कि आज हमारी संस्थान नए- नए क्षेत्रों में बहुत सारे व्यवसायिक प्रशिक्षण कार्यक्रम को सुचारु ढंग से चला रही है जिसमें जुट कारपेट, बांस द्वारा निर्मित सामग्री, सिलाई प्रशिक्षण, कंप्यूटर प्रशिक्षण, ब्यूटी पार्लर, इलेक्ट्रिक तथा टेक्नीशियन का कोर्स शामिल हैं। उन्होंने बताया कि इस वर्ष व्यवसायिक प्रशिक्षण के माध्यम से 1800 लाभार्थीयों को लाभांवित करने की योजना का सृजन किया जा चुका है। प्रथम दीक्षांत समारोह के अवसर पर संस्थान के द्वारा 250 लाभार्थीयों को दक्षता का प्रमाण पत्र दिया गया। इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता राजेंद्र मंडल, संतोष मंडल, किशोर मंडल के साथ ही बुद्धिजीवी ग्रामीणों ने कार्यक्रम में लिया। संस्थान के अमर कुमार शर्मा, मनीष कुमार शर्मा, तेज नारायण मंडल, दानिश अंजुम, संगीता कुमारी, सुलेखा देवी, अंजलि कुमारी, मधु कुमारी आदि ने कार्यक्रम को सफल बनाया।

खबरें और भी हैं...