परेशानी:पलासी में रतवा का रौद्र रूप, लोधिया पोखर के पास 200 फीट सड़क विलीन

अररिया/पलासी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रतवा नदी में कटी सड़क। - Dainik Bhaskar
रतवा नदी में कटी सड़क।

पिछले दो दिनों से हो रही भारी बारिश से जिले की नदिया उफना गई है। सिकटी में नुना, बकरा तबाही मचा रही है। वहीं पलासी प्रखण्ड में प्रमुख दो नदिया रतवा और बकरा में उफान आया है। नकटाखुर्द पंचायत में नकटा कला और बलदांती गांव के बीच लोधिया पोखर के पास प्रधानमंत्री सड़क लगभग तीन सौ फीट रतवा नदी में विलीन हो गई है। इतना ही नहीं बकरा के उफनाने से मदनपुर-पलासी पथ में डेहटी में नवनिर्मित पुल के नवनिर्मित एप्रोच पथ लगभग बह गया है। नदियों के जल स्तर में लगातार वृद्धि जारी है। इसके साथ ही बरसाती नदियां बकरा, भजनधुआ, रिखी, दास आदि भी उफनाइ हुई है।

पलासी प्रखण्ड की सात पंचायत धर्मगंज, पिपरा बिजवार, डेहटी दक्षिण, डेहटी उत्तर, नकटाखुर्द, सोहनदर तथा ब्रहकुम्बा बाढ़ प्रभावित हुई हैं। कटी सड़क के बारे में दैनिक भास्कर ने पहले हीं प्रशासन को आगाह कर चुका था। इतना ही नहीं 5 दिन पहले भी नदी के जल स्तर में वृद्धि होने के बाद सड़क का आधा भाग कटने से संबंधित खबर प्रकाशित कर प्रशासन को चेताया था। लेकिन बाढ़ नियंत्रण डिपार्टमेंट की तरफ से कोई एक्शन नहीं लिया गया और सड़क नदी में विलीन हो गई। सड़क के कटने से इस इलाके के नकटाखुर्द, नकटाकला, सोनाकंदर, पथराबारी, बलदाँती, झीलमिलिया, डकैता, मालद्वार, बकराडांगी आदि गांव के 25 हजार लोगों का आवाजाही बुरी तरह प्रभावित हुई है।

सड़क कट जाने से दर्जन भर गांव के 25 हजार लोगों का आवाजाही बन्द

बुद्धि गोसाईं गांव के एक दर्जन परिवार का घर कटने के कगार पर
कुजरी गांव से सोहनदर हाट तक जाने वाली प्रधानमंत्री सड़क में लोधिया पोखर के पास ही अन्य दो जगहों पर भी सड़क को आंशिक रूप से क्षति पहुंची है। वहीं सोहनदर पंचायत में रतवा नदी ने भारी तबाही मचाई है। पंचायत के छह वार्ड क्रमशः बुद्धि, गोंसाइपुर, खुट्टी, थाकी, भदौणा, लवटोली , बराइ टोल, करहैया बाढ़ से प्रभावित है। बुद्धि गांव के एक दर्जन परिवार रतवा नदी के कटाव से विस्थापन के कगार पर हैं। वहीं सोहनदर से थाकी जाने वाली सड़क में थाकी ईदगाह के पास बने पुल का एक तरफ सड़क कट कर पानी में विलीन हो गई है जिससे लोगों का आवाजाहि प्रभावित हुई है। बुद्धि डोरी घाट के के आस पास सड़क के उपर से पानी का बहाव हो रहा है

। पिपरा बिजवार, धर्मगंज, डेहटी उत्तर तथा डेहटी दक्षिण पंचायतों के निचले इलाकों में बकरा नदी का पानी लोगों के घरों में घुस गया है। पलासी से मदनपुर जाने वाली सड़क में डेहटी घाट के पास बना पुल का अप्रोच क्षतिग्रस्त हो गया है। बाढ़ के कारण जूट, मूंग और धान के बिचड़ा को क्षति पहुंची है। अंचल अधिकारी विवेक कुमार मिश्रा ने कहा है कि बाढ़ से बचाव की सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है। विशेष परिस्थिति में लोगों की सुरक्षा के लिए ऊंचे स्थल को चिंहित कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रखण्ड क्षेत्र में 35 नाव की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि स्थिति पर प्रशासन की पैनी नजर है। लोगों को सुरक्षा प्रदान की जाऐगी।

खबरें और भी हैं...