ऑनर किलिंग:प्रेम करने पर बेटी का घोंट दिया गला, नफरत इतनी कि शव भी नहीं ले गए

मदनपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सदर अस्पताल पोस्टमार्टम हाउस में टेंपो में लदा शव, जिसे ले जाने परिवार के लोग नहीं पहुंचे। - Dainik Bhaskar
सदर अस्पताल पोस्टमार्टम हाउस में टेंपो में लदा शव, जिसे ले जाने परिवार के लोग नहीं पहुंचे।

सगे मामा से प्रेम करने वाली एक नाबालिग को नाराज घरवालों ने गला दबाकर मार डाला। फिर के शिनाख्त छिपाने के लिए गांव से काफी दूर दूसरे इलाके में उसका शव फेंक दिया। जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया। घटना मदनपुर थानाक्षेत्र के मंझार गांव की है। मृतका 14 वर्षीया प्रतिमा कुमारी मुफस्सिल थाना क्षेत्र बहुआरा गांव की रहने वाली थी। पुलिस ने मंझार गांव से उसका शव बरामद कर तहकीकात शुरु कर दिया।

घटना की चर्चा पुरे इलाके में जंगल की आग की तरह फैल गई है। इस मामले में अभी तक एफआईआर के लिए कोई आवेदन नहीं आया है। पुलिस चौकीदार के बयान पर प्राथमिकी दर्ज करने की तैयारी कर रही थी, उसी बीच देर शाम लड़की मां एफआईआर दर्ज कराने के लिए थाने पहुंच गई। एसपी ने बताया कि सभी ऐंगल पर मामले की तहकीकात की जाएगी, हालांकि प्रथम दृष्टया ऑनर किलिंग का मामला ही लगता है।

एसपी कांतेश कुमार मिश्रा ने बताया कि पुलिस इस मामले में गंभीरता से तहकीकात कर रही है। नाबालिग की वाजिब कातिल काैन है पता लगाया जा रहा है। घरवाले फरार हैं, लेकिन कई लोगों से पूछताछ हुई है। हत्यारों को बहुत जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। सबकुछ साफ होगा। उन्हें कड़ी सजा दिलाई जाएगी।

ग्रामीणों के सहयोग से उसका अंतिम संस्कार किया गया

नाबालिग को घरवालों ने गला दबाकर हत्या घर में कर दी। शव मदनपुर के मंझार बधार में फेंका। शनिवार की सुबह ग्रामीणों की नजर सुबह में शव पर पड़ी। मौके पर सैकड़ों लोग जुट गए। सूचना पर मदनपुर के प्रभारी थानाध्यक्ष राजू कुमार, एसआई गोपाल मिश्रा व जय कुमार प्रसाद दल-बल के साथ घटनास्थल पहुंचे और शव को अपने कब्जे में लिया। कुछ लोगों ने शव का शिनाख्त किया।

नाबालिग बहुआरा गांव की रहने वाली है। जिसके बाद उसके परिजनों को इसकी सूचना दी गई, लेकिन घरवाले देखने भी नहीं आए। पुलिस शव का पोस्टमार्टम कराकर भी परिजनों का इंतजार किया, लेकिन लाश लेने भी कोई नहीं आया। इसके बाद पुलिस शव को गांव लेकर जाकर ग्रामीणों को सौंपा। जानकारी के अनुसार ग्रामीणों के सहयोग से उसका अंतिम संस्कार किया गया।

15 दिन पहले मामा संग फरार हो गई थी किशोरी
ग्रामीण सूत्रों के अनुसार उक्त नाबालिग करीब दो साल से अपने मामा के करीब आ गई थी, लेकिन रिश्ता पर शक नहीं किया जा सकता था। दाेनों मोबाइल पर अक्सर बात करते थे। हालांकि कुछ माह पहले घरवालों को थोड़ा शक हुआ। इसके बाद उसके मामा घर से भगाया भी गया, लेकिन वह आरोप से इंकार करता रहा। 15 दिन पहले उक्त नाबालिग अपने मामा के साथ फरार हो गई।

पांच दिनों तक उसका कोई पता नहीं चल पाया। घरवाले इधर-उधर पता लगाते रहे, लेकिन उसका दोनों का कोई पता नहीं चला। इसके बाद नाबालिग मामा के साथ उसके घर पहुंची। जहां उसके बड़े मामा ने डांट-फटकार लगाकर और प्यार समझा-बुझाकर उसके घर पहुंचाया। घर आने के बाद वह मामा के साथ शादी की जिद कर करने लगी। जिससे नाराज होकर घरवालों ने इस घटना को अंजाम दिया।

खबरें और भी हैं...