सरकार का निर्देश:मनरेगा से दी जाएगी 95 दिनों की मजदूरी

अंबा17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभुकों को 95 दिनों का मजदूरी मनरेगा से भुगतान की जानी है। सभी कर्मियों को हरहाल में गाइड लाइन का अनुपालन करना होगा। लाभुकों को आवास निर्माण करने के लिए पहली किस्त के रूप में 45 हजार रुपये दिए जा रहे हैं। इसके अलावा 210 रूपये प्रति मजदूर की दर 30 दिनों का अलग से मजदूरी भुगतान किया जाएगा। मजदूरी भुगतान करने के लिए पीआरएस को मस्टर रोल आधार व अकाउंट अपडेट करना होगा। बगैर मास्टर रौल निकाले मजदूरी भुगतान करना संभव नहीं है।

प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित मनरेगा भवन के सभागार में पीओ कुमार शैलेंद्र ने आवास सहायक तथा पंचायत रोजगार सेवकों के साथ बैठक की। बैठक में आवास पर्यवेक्षक आर्य नंदन भी उपस्थित रहे। पीओ ने बताया कि कार्य में तेजी लाने की जरूरत है। सरकारी प्रावधानों के अनुसार आवास निर्माण कार्य शुरू करने के पश्चात मजदूरी भुगतान करने के बाद ही दूसरी किस्त की राशि उपआवंटित की जानी है।इसके बाद लाभुकों को पुनः दूसरी किस्त में भी 45 हजार रुपये और 30दिनों की मजदूरी दी जानी है।तीसरी किस्त में 40 हजार रुपये व 35दिनों को मजदूरी दिया जाएगा।

कुटुंबा में 3701 आवास बनाने का है लक्ष्य, 3371 हुए स्वीकृत
पर्यवेक्षक आर्यनंदन ने जानकारी देते हुए बताया कि लाभुकों को आवास निर्माण कार्य पूर्ण करने के लिए तीन किस्त में एक लाख 30हजार रुपये ब्लौक से तथा 19950रूपये मनरेगा से यानी कुल 149950 रुपये दिया जाना है। उन्होंने बताया कि कुटुंबा प्रखंड में आवास का लक्ष्य 3701है जिसमें 3371स्वीकृत कर दिया गया है.लाभुको को हरहाल में 90 से 95 दिनों के अंदर आवास निर्माण कार्य पूरा कर देना है।

पीओ ने बताया कि फर्स्ट किस्त भुगतान के साथ हीं रोजगार सेवक मेनडेज जेनरेटर करना शुरू करेंगे।सभी लाभुकों के लिए अलग-मास्टर रौल निकालना होगा। प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित सभागार में पीओ ने आवास सहायक तथा पंचायत रोजगार सेवकों को योजना से संबंधित सरकार के निर्देशों से अवगत कराया।

कुटुंबा में 3701 आवास बनाने का है लक्ष्य, 3371 हुए स्वीकृत
पर्यवेक्षक आर्यनंदन ने जानकारी देते हुए बताया कि लाभुकों को आवास निर्माण कार्य पूर्ण करने के लिए तीन किस्त में एक लाख 30हजार रुपये ब्लौक से तथा 19950रूपये मनरेगा से यानी कुल 149950 रुपये दिया जाना है। उन्होंने बताया कि कुटुंबा प्रखंड में आवास का लक्ष्य 3701है जिसमें 3371स्वीकृत कर दिया गया है.लाभुको को हरहाल में 90 से 95 दिनों के अंदर आवास निर्माण कार्य पूरा कर देना है।

पीओ ने बताया कि फर्स्ट किस्त भुगतान के साथ हीं रोजगार सेवक मेनडेज जेनरेटर करना शुरू करेंगे।सभी लाभुकों के लिए अलग-मास्टर रौल निकालना होगा। प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित सभागार में पीओ ने आवास सहायक तथा पंचायत रोजगार सेवकों को योजना से संबंधित सरकार के निर्देशों से अवगत कराया।

खबरें और भी हैं...