औरंगाबाद में बसपा नेता के होटल पर छापेमारी:सेक्स रैकेट का हुआ खुलासा, 15 लड़के और लड़कियों को पुलिस ने बरामद किया

औरंगाबाद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

औरंगाबाद जिले के दाऊदनगर पुलिस सेक्स रैकेट का खुलासा किया है। मामला गया-दाऊदनगर रोड के बर्मा इन होटल से जुड़ा है। बुधवार को 8 लड़के और 7 लड़कियों को पकड़ा गया है। घटना के बाद से दाऊदनगर में हड़कंप मचा हुआ है। बुधवार की दोपहर पुलिस को सूचना मिली कि बर्मा इन होटल में देह व्यापार का धंधा चल रहा।

सूचना के फौरन बाद भारी संख्या में दाऊदनगर पुलिस वर्मा इन होटल में पहुंची और छापेमारी शुरू की। पुलिस के होटल में पहुंचते ही होटल कर्मी व उक्त धंधे में शामिल लड़के लड़कियों में हड़कंप मच गई। सभी इधर-उधर भागने लगे। लेकिन पुलिस होटल को चारों तरफ से घेरकर होटल खंगालना शुरू की। इस दौरान 15 लड़के लड़कियों को पकड़ा गया। जिन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

छापेमारी में दाउदनगर एसडीपीओ कुमार ऋषि राज व थानाध्यक्ष समेत अन्य पुलिस जवान शामिल रहे। बताते चलें कि बुक होटल में कई दिनों से इस तरह का व्यापार चल रहा था। जिसकी सूचना पुलिस को नहीं थी। बुधवार को सूचना मिलते ही पुलिस छापेमारी की और 15 लड़के लड़कियों को बरामद किया। जिन्हे दाउदनगर थाना में रखकर पूछताछ की जा रही है। उनके परिजनों को बुलाया जा रहा है। दाउदनगर में पहली बार इस तरह की घटना सामने आई है।

होटल बसपा नेता दाउदनगर थाना के सिंदुआर गांव निवासी योगेन्द्र वर्मा की है। करीब चार सालों से होटल का संचालन हो रहा है। सूत्रों की मानें तो होटल खुलने के कुछ ही साल बाद इस तरह का धंधा होटल में चल रही थी। जिसकी भनक पुलिस को मिल रही थी।

बसपा नेता योगेन्द्र वर्मा सरकारी शिक्षक थे। शिक्षक रहते ही होटल का व्यवसाय शुरू किया था। 2021 में मुखिया के चुनाव लड़ने के लिए शिक्षक पद से इस्तीफा दे दिया था। चुनाव भी लड़े। लेकिन, किस्मत साथ नहीं दिया और चुनाव हार गए। इसके बाद से वह मुख्य रूप से होटल के संचालन पर ध्यान दे रहा था।