हत्या का कबूलनामा...सुजीत मेहता को मैंने मारा:वीडियो जारी कर युवक बोला- उसने मेरे दोस्त का मर्डर किया था, किसी को नहीं छोड़ूंगा

औरंगाबाद3 महीने पहले

औरंगाबाद में सुजीत मेहता हत्याकांड में नया मामला सामने आया है। वीडियो जारी कर एक अपराधी ने हत्या की जिम्मेदारी ली है। उसने झारखंड के रहने वाले कुणाल सिंह की हत्या का बदला लेने की बात कही है। वीडियो में वो बोल रहा है कि सुजीत ने कुणाल को मारा था, इसलिए मैंने उसकी हत्या की है। कुणाल की हत्या में शामिल बाकी लोग भी मेरी नजर में हैं। मैं उन्हें भी नहीं छोड़ूंगा।

पोल में हिस्सा लेकर खबर पर अपनी राय दीजिए।

इस वीडियो के बाद पुलिस महकमे में खलबली मच गई है। अपराधी की गिरफ्तारी के लिए अभियान तेज कर दिया गया है। वीडियो जारी करते हुए अपराधी ने अपना नाम शुभम सिंह बताया है। एसपी कांतेश कुमार मिश्रा ने बताया कि वीडियो मिली है। छानबीन की जा रही है। जल्द ही वीडियो जारी करने वाला शख्स को दबोच लिया जाएगा। पूछताछ के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

5 अगस्त को हुई थी सुजीत मेहता की हत्या

अंबा थाना क्षेत्र के दधपा बिगहा गांव निवासी सुजीत मेहता की हत्या 5 अगस्त की शाम को हुई थी। अपराधियों ने सुजीत को 7 गोली मारी थी। जबकि उसके दोस्त चंदन को दो गोली लगी थी। मामले में सुजीत मेहता की पत्नी सुमन कुमारी द्वारा अंबा थाना में केस दर्ज कराया था। इसमें अंबा थाना के हड़िया गांव निवासी आकाश कुमार सिंह, चुन्ना सिंह और चंदौल ढोंगरा गांव निवासी नंद किशोर को आरोपी बनाया गया था।

5 आरोपियों को जेल भेज चुकी है पुलिस

पुलिस मामले में कार्रवाई करते हुए 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुका है। जिन अपराधियों को जेल भेजा गया है। बताते चलें कि सुजीत मेहता के हत्या के बाद से जिले में सोशल मीडिया पर जातिया उन्माद फैला हुआ है। लाइव के जरिए एक दूसरे के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की जा रही है। वहीं सुजीत मेहता के हत्या के बाद जिले के साथ-साथ पूरे बिहार में कुशवाहा समाज के लोगों द्वारा प्रदर्शन किया गया था और हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की गई थी।

वीडियो जारी कर बोला- किसी को नहीं छोड़ूंगा

वीडियो जारी कर युवक ने कहा कि मैं शुभम सिंह...मैंने ही सुजीत मेहता को गोली मारी। क्योंकि सुजीत मेहता ने कुणाल सिंह के बहनोई को गोली मारी थी। इसमें उनकी हत्या हो गई। डेहरी पाली रोड सुजीत के चंदू को भी मैंने मारा था। क्योंकि, कुणाल सिंह को चंदु ने गोली मारी थी। इसमें वो कहता था कि मैंने मारा है शॉट।

कुणाल सिंह के प्रतिशोध में ही मैने चंदू को मारा। कुणाल सिंह गिरोह का संचालक मैं शुभम सिंह। कुणाल सिंह के हत्या में जो-जो लोग शामिल होंगे, उन सब पर मेरी निगाह है। कुणाल सिंह का शुभचिंतक मैं शुभम सिंह।