औरंगाबाद में रेपिस्ट को 20 साल की सजा:मामा के घर शादी में गई थी किशोरी, टीवी दिखाने के बहाने ले गया था अपने घर

औरंगाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

टीवी दिखाने के बहाने घर में ले जाकर किशोरी से दुष्कर्म करने वाले एक दोषी को कोर्ट ने 20 साल की सजा सुनाया है। वहीं दस हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया है। जुर्माना न देने पर एक साल की अतिरिक्त सजा होगी। यह सजा औरंगाबाद सिविल कोर्ट के एडीजे-6 सह स्पेशल पॉक्सो कोर्ट विवेक कुमार ने टंडवा थाना कांड संख्या 51/21 में सुनवायी करते हुए सुनाया है। दोषी अभियुक्त कुंदन कुमार सिंह टंडवा थाना क्षेत्र के काला पहाड़ तेंदुआ गांव का रहने वाला है। अभियुक्त को भादवी की धारा 376व पॉक्सो एक्ट की धारा 4 में 20 साल की सजा और दस हजार जुर्माना लगाया गया है। जुर्माना न देने पर एक वर्ष अतिरिक्त कारावास होगी।

अधिवक्ता सतीश कुमार स्नेही ने बताया कि पीड़िता किशोरी टंडवा अपने मामा के घर शादी में आयी थी। वह गांव में ही बकरी चरा रही थी। इसी दौरान अभियुक्त उसे टीवी दिखाने के बहाने बहला-फुसलाकर अपने घर में गया और फिर डरा-धमकाकर दुष्कर्म किया। जब पीड़िता शादी के बाद घर गई तो कुछ दिन बाद उसकी तबीयत खराब हो गई। जांच के दौरान वह गर्भवती पायी गई। जिसके बाद पीड़िता ने घटना की जानकारी अपने परिजनों को दी। जिसके बाद 8 जुलाई 2021 को टंडवा थाना में मामला दर्ज कराया गया। स्पेशल पीपी शिवलाल मेहता ने बताया कि अभियुक्त को 13 मई 2022 को दोषी करार दिया गया था।