आरोप-प्रत्यारोप:प्रधानाध्यापक पर एमडीएम का चावल चोरी का आरोप लगा ग्रामीणाें ने किया सड़क जाम

बांकाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • असामाजिक तत्वों का विराेध करने झूठा आराेप लगाया जा रहा है: एचएम

अमरपुर थाना क्षेत्र के सुरिहारी गांव के ग्रामीणों ने सुरिहारी गांव स्थित प्रोन्नत उच्च विद्यालय के प्रधानाध्यापक गुलाब सिंह पर मध्याह्न भोजन की चोरी करने का आरोप लगाते हुए सोमवार के दिन विद्यालय के समीप मुख्य सड़क पर बांस बल्ला लगाकर जाम कर दिया। मौके पर ग्रामीणों ने बताया कि शनिवार के दिन एक युवक विद्यालय परिसर से चावल की बोरी चोरी कर जा रहा था, जिसे हम ग्रामीण रंगे हाथ पकड़ लिया। जाम स्थल पर डटे युवाओं ने विद्यालय के एचएम को बदलने की मांग कर रहे थे। दूसरी तरफ विद्यालय के प्रधानाध्यापक गुलाब सिंह ने बताया कि ग्रामीणों द्वारा लगाये गये आरोप बेबुनियाद है। उच्च विद्यालय के समीप कुछ असामाजिक तत्वों के युवा जमावड़ा लगा कर विद्यालय पढ़ने आई छात्राओं के साथ छींटा कशी करते हैं। विरोध करने पर युवा लोग मुझ पर झूठा आरोप लगा रहे हैं। प्रधानाध्यापक ने बताया जाम के दौरान कुछ असामाजिक तत्वों के लोगों ने बलुआ गांव की एक छोटी बच्ची को बांस से पीट दिया। मामले को लेकर प्रधानाध्यापक ने थाना में लिखित आवेदन देकर जांच करते हुए कार्यवाही की मांग की है। पुलिस ने बताया कि आवेदक के द्वारा दिये गये आवेदन पर अनुसंधान किया जा रहा है।

डीलर के ऊपर कम राशन नापने का ग्रामीणों ने लगाया आरोप

रजौन | प्रखंड अंतर्गत धायहरना-महगामा पंचायत के महागामा गांव के वार्ड नंबर 15 में स्थित डीलर प्रभास प्रसाद सिंह के ऊपर ग्रामीणों ने मनमानी एवं कम राशन देने की शिकायत एसडीएम बांका से की है। जानकारी के अनुसार महागामा गांव के वार्ड संख्या 15 में डीलर पर कम राशन देने का आरोप लगाते हुए ग्रामीण उपेंद्र सिंह, आनंद कुमार, अमरिंदर सिंह, दिनेश प्रसाद सिंह, प्रियंका कुमारी, प्रशांत कुमार सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने डीलर के ऊपर अनाज वितरण के समय कंप्यूटर वाले तराजू से 21 केजी सरकारी अनाज तोल कर देता है। जब दूसरे कंप्यूटर पर जाकर तोलता है तो, अनाज 16 केजी ही होता है। जिसमें 5 केजी कम अनाज देने का आरोप लगाया है। साथ ही कहा है कि जब डीलर को जाकर कहते हैं कि राशन कम क्याें देते हैं तो, उल्टे ही गाली-गलौज कर लाभुक को भगा दिया जाता है और कहता है कि जहां जाना है जाओ मेरा किया बिगाड़ लोगे। इसके पूर्व भी उक्त डीलर पर आरोप लग चुका है। साथ ही ग्रामीणों ने डीलर के उपर रातों-रात सरकारी अनाज का कालाबाजारी करने का भी आरोप लगाया है। साथ ही कहा है कि किसी भी लाभुक को अनाज लेते समय डीलर द्वारा पर्ची मिलना चाहिए वह डीलर नहीं देता है। जिसको लेकर ग्रामीणों द्वारा डीलर के ऊपर कई गंभीर आरोप लगाया गया है। इस संदर्भ में एमओ विभूति कुमार ने बताया कि मामला मेरे संज्ञान में नहीं है।

खबरें और भी हैं...